30 C
Mumbai
Tuesday, October 20, 2020

जब तक परिवार तलाक का समर्थन नहीं करेगा, घर नहीं लौटूंगा: तेज प्रताप

विज्ञापन
Loading...

Must read

नालासोपारा : कोरोना योद्धाओं को कोरोना किट वितरित

नालासोपारा :आज जहां पूरा विश्व कोरोना संकट से जूझ रहा है वहीं पत्रकारों की भूमिका किसी योद्धा से कम नहीं है मार्च महीने से...

गोल्ड लोन के लिए पति ने मांगे गहने तो पत्नी ने दे दी तलाक की धमकी

यूं तो गहनों से महिलाओं को बहुत प्यार होता है, लेकिन गहनों को लेकर बात तलाक तक पहुंच जाए, ऐसा शायद ही कभी...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

जब तक परिवार तलाक का समर्थन नहीं करेगा, घर नहीं लौटूंगा: तेज प्रताप

आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद के बेटे और विधायक तेज प्रताप यादव ने कहा कि वह अभी हरिद्वार में रह रहे हैं और जब तक पत्नी से तलाक के उनके फैसले का परिवार समर्थन नहीं करता है तब तक वह घर नहीं लौटेंगे .

पटना के एक लोकल समाचार चैनल के साथ फोन पर बातचीत करते हुए तेज प्रताप ने छोटे भाई तेजस्वी यादव को जन्मदिन की बधाई दी लेकिन कहा कि वह नई दिल्ली में भाई के जन्मदिवस समारोह में शामिल नहीं हो पाएंगे. तेजस्वी राष्ट्रीय राजधानी में अपनी बहनों से मिलने गए हैं. आरजेडी नेता तेज प्रताप को आखिरी बार बोधगया में देखा गया था. रांची में अपने बीमार पिता लालू प्रसाद से मिलकर लौटने के बाद वह वहां एक होटल में रुके थे.

तेज प्रताप हाल ही में पत्नी से तलाक की अर्जी दाखिल करने के बाद से चर्चा में हैं. छह महीने पहले ही बड़ी धूम धाम से उनकी शादी हुई थी. तलाक लेने के बड़े बेटे के फैसले से माना जा रहा है कि लालू प्रसाद दुखी हैं. लालू चारा घोटाले के विभिन्न मामलों में सजायाफ्ता हैं. इस समय वह बीमारी के कारण रांची के एक अस्पताल में भर्ती हैं. तेज प्रताप यादव की शादी आरजेडी विधायक चंद्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या राय के साथ 12 मई को हुई थी. ऐश्वर्या बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री दारोगा प्रसाद राय की पौत्री है.

समझौते की कोई गुंजाइश नहीं

तेज प्रताप ने कहा, ‘हमारे मतभेद में अब समझौते की कोई गुंजाइश नहीं है. मैंने अपने माता-पिता को शादी होने से पहले इस बारे में बताया था. लेकिन उस वक्त मेरी किसी ने नहीं सुनी और अब भी मेरी कोई नहीं सुन रहा है. जब तक वे मुझसे सहमत नहीं होते हैं तब तक मैं घर कैसे वापस आ सकता हूं.’ बिहार सरकार में मंत्री रह चुके तेज प्रताप ने उनके वैवाहिक विवाद में नजदीकी संबंधियों, खास कर ससुराल के लोगों के जरिए अदा की गई भूमिका पर भी नाराजगी जाहिर की.

छोटे भाई के साथ बढ़ती नाराजगी संबंधी खबरों को खारिज करते हुए उन्होंने कहा, ‘मैं तेजस्वी को अपना आशीर्वाद देता हूं. मेरी कामना है कि वह बिहार का अगला मुख्यमंत्री बने. मैं उसकी तरफ ही रहूंगा और ठीक उसी तरह से उसकी मदद करूंगा जैसे महाभारत में कृष्ण ने अर्जुन की मदद की थी.’ इस बीच, पार्टी महासचिव और लालू प्रसाद के विश्वस्त सहयोगी भोला यादव ने पत्रकारों से आग्रह किया है कि ‘परिवार के मतभेदों को खबर नहीं बनाएं.’

उन्होंने कहा, ‘लालूजी ठीक नहीं हैं. जो हो रहा है उससे उनका मन और खराब हो रहा है. मीडिया में जिस तरह से चीजों को प्रमुखता दी जा रही है वह उनके लिए पीड़ादायी है.’ उन्होंने यह भी कहा कि प्रसाद की पत्नी राबड़ी देवी इस साल छठ पूजा नहीं करेंगी. भोला ने बताया, ‘उन्होने त्योहार से अलग रहने का निर्णय किया है क्योंकि वह भी ठीक नहीं हैं. लेकिन यह सुनकर किसी प्रकार के निर्णय पर नहीं पहुंचिए.’

विज्ञापन
Loading...

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

नालासोपारा : कोरोना योद्धाओं को कोरोना किट वितरित

नालासोपारा :आज जहां पूरा विश्व कोरोना संकट से जूझ रहा है वहीं पत्रकारों की भूमिका किसी योद्धा से कम नहीं है मार्च महीने से...

गोल्ड लोन के लिए पति ने मांगे गहने तो पत्नी ने दे दी तलाक की धमकी

यूं तो गहनों से महिलाओं को बहुत प्यार होता है, लेकिन गहनों को लेकर बात तलाक तक पहुंच जाए, ऐसा शायद ही कभी...