26 C
Mumbai
Thursday, December 3, 2020

न्यूनतम वेतन की मांग को लेकर दिल्ली के अस्पताल में हड़ताल पर 300 नर्स

Must read

युवती अपहरण मामले में नया मोड़, दुष्कर्म पीड़िता ने जारी किया वीडियो

यूपी के फतेहपुर जिले में रेप पीड़िता के अपहरण से मची सनसनी के मामले में बुधवार को नया मोड़ आ गया। सोमवार को युवती...

यूपी: 30 फीट के गहरे बोरवेल में गिरा चार साल का बच्चा, बच्चे जान बचाने की कोशिशें जारी

महोबा जिले में कुलपहाड़ क्षेत्र के बुधौरा गांव में बुधवार को किसान भागीरथ कुशवाहा का चार साल का इकलौता बेटा धर्नेंद्र उर्फ बाबू 30...

बिहार: डीआरआई को मिली बड़ी कामयाबी, 1.5 किलो सोने के बिस्किट के साथ महिला अपराधी समेत दो गिरफ्तार

सोना तस्करी के खिलाफ डीआरआई को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। म्यांमार से तस्करी कर गुवाहाटी लाए गए डेढ़ किलो सोने को दो व्यक्ति...

बाइक सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े बिहार में पशुपालन विभाग के रिटायर्ड पदाधिकारी से 2.5 लाख रुपए छीने

बिहार के सहरसा जिले के बटराहा मुहल्ला स्थित घर के पास बुधवार को दिनदहाड़े बदमाशों ने सेवानिवृत्त पदाधिकारी से ढाई लाख रुपए की छिनतई...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

न्यूनतम वेतन की मांग को लेकर दिल्ली के अस्पताल में हड़ताल पर 300 नर्स

दिल्ली के एक निजी अस्पताल की करीब 300 नर्सें सुप्रीम कोर्ट की सिफारिशों के मुताबिक न्यूनतम वेतन की मांग करते हुए शनिवार को दूसरे दिन भी हड़ताल पर रहीं.

दक्षिण दिल्ली के बत्रा अस्पताल एंड मेडिकल रिसर्च सेंटर की नर्सों ने आरोप लगाया है कि उन्हें देर तक काम करने के लिए बाध्य किया जाता है और इसके अनुरूप उन्हें भुगतान नहीं किया जा रहा है. नर्स यूनियन की एक सदस्य ने कहा कि उनकी अन्य मांगों में नेशनल एक्रेडेशन बोर्ड फॉर हॉस्पिटल्स एंड हेल्थकेयर प्रोवाइडर्स के नियमों के मुताबिक नर्स-मरीज अनुपात बनाने, वार्षिक वेतन वृद्धि, मातृत्व अवकाश नीति का क्रियान्वयन, बीमा कवरेज शामिल हैं.

नर्सों ने मांगों की अपनी सूची प्रबंधन को सौंपी और दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और भारतीय नर्सिंग परिषद के सामने भी अपनी शिकायतें रखीं. यूनाईटेड नर्स एसोसिएशन दिल्ली की महासचिव जोल्डिन ने कहा, ‘कर्मचारियों की कमी है और प्रबंधन नर्सों से ओवरटाइम कराता है और उसके लिए उन्हें कोई भुगतान नहीं करता.’ नर्सों के अनुसार प्रबंधन उनकी मांगें नहीं सुन रहा है, जिससे बाध्य होकर उन्हें हड़ताल पर जाना पड़ा.

इस पर अस्पताल के मेडिकल निदेशक विपुल सूद ने कहा, ‘सभी अस्पतालों में कर्मचारियों पर इस समय डेंगू और चिकुनगुनिया सीजन की वजह से काम का अधिक बोझ है. ऐसे समय में मरीजों की सुरक्षा प्राथमिक चिंता है और लोगों को अतिरिक्त काम करना होता है. देर तक काम कराने पर वित्तीय प्रोत्साहन और प्रतिपूर्ति अवकाश दिए जाते हैं.’

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

युवती अपहरण मामले में नया मोड़, दुष्कर्म पीड़िता ने जारी किया वीडियो

यूपी के फतेहपुर जिले में रेप पीड़िता के अपहरण से मची सनसनी के मामले में बुधवार को नया मोड़ आ गया। सोमवार को युवती...

यूपी: 30 फीट के गहरे बोरवेल में गिरा चार साल का बच्चा, बच्चे जान बचाने की कोशिशें जारी

महोबा जिले में कुलपहाड़ क्षेत्र के बुधौरा गांव में बुधवार को किसान भागीरथ कुशवाहा का चार साल का इकलौता बेटा धर्नेंद्र उर्फ बाबू 30...

बिहार: डीआरआई को मिली बड़ी कामयाबी, 1.5 किलो सोने के बिस्किट के साथ महिला अपराधी समेत दो गिरफ्तार

सोना तस्करी के खिलाफ डीआरआई को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। म्यांमार से तस्करी कर गुवाहाटी लाए गए डेढ़ किलो सोने को दो व्यक्ति...

बाइक सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े बिहार में पशुपालन विभाग के रिटायर्ड पदाधिकारी से 2.5 लाख रुपए छीने

बिहार के सहरसा जिले के बटराहा मुहल्ला स्थित घर के पास बुधवार को दिनदहाड़े बदमाशों ने सेवानिवृत्त पदाधिकारी से ढाई लाख रुपए की छिनतई...

हवाई फायरिंग करते हुए गोपालगंज के व्यवसायी की बेतिया में गोली मारकर की हत्या, बदमाश हुए फरार

बिहार के बेतिया में मनुआपुल के जोकहां रेलवे ढाला के समीप गोपालगंज के कटेया थाने की रामदास बगही पंचायत के सैदपुरा गांव निवासी व्यवसायी...