27 C
Mumbai
Monday, November 30, 2020

पोस्टर में लटकी लाश देखकर लोग तो क्या पुलिस भी रह गई हैरान!

Must read

जेडीयू नेता बोले, चार्जशीटेड तेजस्वी को अपराध पर बोलने का हक नहीं

प्रदेश जदयू मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा है कि नेता विपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव अगर वाकई अपराध को लेकर गंभीर हैं तो सबसे...

बिहार संक्रमितों की संख्या 2,35,159 हुई, 606 नये कोरोना पॉजिटिव मिले, 6 की हुई मौत

बिहार में 606 नये कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान रविवार को हुई और छह कोरोना संक्रमितों की इलाज के दौरान मौत हो गयी। इसके...

बिहार: दारोगा बहाली की परीक्षा में 94 प्रतिशत अभ्यर्थी शामिल हुए, गया में पकड़ा गया मुन्नाभाई

दारोगा, सार्जेंट और सहायक जेल अधीक्षक के 2446 पदों के लिए संयुक्त मुख्य लिखित परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो गया। बिहार के 12...

रफ्तार का कहर: बहन के घर आ रहे दो भाइयों को सुपौल में बस ने रौंदा

बिहार के सुपौल जिले में एनएच 327 ई जदिया-त्रिवेणीगंज मुख्य मार्ग में नाढ़ी मोड़ के पास रविवार सुबह सवा छह बजे एक बस ने...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar
सोमवार सुबह मुंबई के ओशिवारा पुलिस को एक कॉल ने हिला कर रख दिया। सुबह 7 बजे के आसपास अँधेरी के ओशिवारा स्थित आदर्श नगर सिग्नल पर एक फिल्मी पोस्टर पर एक आदमी का लाश देखकर पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। कुछ लोगों ने इसकी जानकारी पुलिस को दिया। जब घटना स्थल पर पुलिस पहुंची तो पता चला कि पोस्टर पर जो आत्म्यहत्या करते दिखा व्यक्ति कोई और नही बल्कि एक पुतला था।
पुलिस के जांच में पता चला कि ये एक फ़िल्म का पब्लिसिटी स्टंट था। जिसके चलते स्थानीय लोगों के साथ साथ आने जाने वाले राहगीरों के मन में डर का माहौल बन गया था। पुलिस ने करवाई करते हुए फ़िल्म के पीआरओ नगमा खान को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही हैं। बताया जाता हैं कि  लक्ष्य प्रोडक्शन ने अपनी आनेवाली फिल्म द डार्क साइड ऑफ लाइफ _ मुंबई सिटी के लिए अपना रोड शो आयोजित किया।  इस कार्यक्रम में आदर्श नगर सिग्नल, अंधेरी, मुंबई में फ़िल्म केे कलाकारों ने भाग लिया।
फ़िल्म के निर्देशक तारिक खान ने सुसाइड घटनाओं की याद दिलाते हुए  कहा, “यह मुंबई के लोगों के लिए एक आंख खोलने वाला है स्टोरी हैं, जो मेट्रो जीवन के दैनिक हलचल और व्यस्त लाइफ में सुसाइड घटनाओं से अनजान रहते हैं। जो किसी की भी जीवन में हो सकते हैं।” जैसे जिया खान और प्रतुषा बैनरजी के जीवन में घटी है। “फिल्म की कहानी आत्म्यहत्या से संबंधित है, जो एक संतुलित दिमाग के किरदार पर आधारित हैं और उसे आत्म्यहत्या से बचाते है। फिल्म 23 नवंबर को देश भर के सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है।

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

जेडीयू नेता बोले, चार्जशीटेड तेजस्वी को अपराध पर बोलने का हक नहीं

प्रदेश जदयू मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा है कि नेता विपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव अगर वाकई अपराध को लेकर गंभीर हैं तो सबसे...

बिहार संक्रमितों की संख्या 2,35,159 हुई, 606 नये कोरोना पॉजिटिव मिले, 6 की हुई मौत

बिहार में 606 नये कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान रविवार को हुई और छह कोरोना संक्रमितों की इलाज के दौरान मौत हो गयी। इसके...

बिहार: दारोगा बहाली की परीक्षा में 94 प्रतिशत अभ्यर्थी शामिल हुए, गया में पकड़ा गया मुन्नाभाई

दारोगा, सार्जेंट और सहायक जेल अधीक्षक के 2446 पदों के लिए संयुक्त मुख्य लिखित परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो गया। बिहार के 12...

रफ्तार का कहर: बहन के घर आ रहे दो भाइयों को सुपौल में बस ने रौंदा

बिहार के सुपौल जिले में एनएच 327 ई जदिया-त्रिवेणीगंज मुख्य मार्ग में नाढ़ी मोड़ के पास रविवार सुबह सवा छह बजे एक बस ने...

बिहार: सड़कों पर बजेगा बैंड-बाजा, शादी समारोह में अब 100 से अधिक लोग होंगे शामिल

शादी- समारोह के अवसर पर बैंड-बाजा पर लगाई गई रोक को प्रशासन ने रविवार को हटा लिया। साथ ही लोगों को रियायत देते हुए...