loading...

राधारानी के एक भक्त द्वारा राधारानी और श्री कृष्ण को 2.85 लाख रुपये कीमत के हार भेंट किए गए हैं। इन हारों को आज रक्षाबंधन पर राधारानी धारण करेंगी। राधारानी के लिए मंगलसूत्र और श्री कृष्ण के लिए हार है।

बरसाना स्थित ब्रह्मांचल पर्वत पर बिराजमान लाड़लीजी महल में भक्त अपने आराध्य को खुश करने के लिए अनेक प्रकार के संकल्प करते हैं और उन्हें पूरा करते हैं। ऐसे ही एक भक्त हैं तमिलनाडु के अन्ना बाबा एवं उनकी धर्मपत्नी देवकी। श्रीरंगम रंगनाथ के महंत गुरुदेव रंगनारायण जीयरस्वामी के शिष्य अन्ना बाबा एवं उनकी धर्मपत्नी देवकी द्वारा समाज के मुखिया रामभरोसे गोस्वामी व मंदिर रिसीवर कृष्ण मुरारी गोस्वामी, सह रिसीवर मनमोहन गोस्वामी, हरिमोहन गोस्वामी के समक्ष लाड़लीजी की सेवा में ये मंगलसूत्र और हार भेंट किए गए। 15 अगस्त रक्षाबंधन के दिन श्रीजी के विग्रह को ये हार धारण कराए जाएंगे।  

एक किलो सोना भेंट देने का लिया संकल्प 
बरसाना में अन्ना बाबा नाम से विख्यात संत ने अपनी पत्नी के साथ राधारानी को एक किलो सोने के हार भेंट करने का संकल्प लिया है। इसको पूरा करने में वह अपनी तनख्वाह से बचत कर हर वर्ष स्वर्ण हार भेंट करते हैं। 

पहले भी दो बार भेंट कर चुके हार 
अन्ना बाबा ने इससे पहले राधाष्टमी पर साढ़े चार लाख की कीमत के चार हार रानी को भेंट किए थे। जिनको राधारानी कान्हा संग धारण करती हैं। दूसरी बार लठामार होली पर भी पांच लाख की कीमत के हार भेंट किए थे। 

इधर-उधर न हों, इसलिए चढ़ाए जाते हैं पट्ठे पर
मंदिर सेवायतों द्वारा सेवा से संबंधित लेखा-जोखा को एक बही खाता बनाया गया है। इस पर राधारानी के धारण करने के जेवरात चढ़ाए जाते हैं। इसको पट्ठा कहते हैं। 2 लाख  85 हजार कीमत के हारों को समाज के लोगों के सामने पट्ठे पर चढ़ा कर सेवायत को दिया जाएगा। 

loading...