loading...

शाम को बीएमसी मुख्यालय में आयुक्त के साथ हुई बैठक में शिवसेना ने हड़ताल से हटने की घोषणा कर दी। सूत्रों का कहना है कि अब बुधवार को मुंबई की सड़कों पर कुछ बसें चलती हुई दिखेगी,परंतु शशांक राव ने हड़ताल वापस नहीं ली है। बेस्ट संयुक्त कृति समिति की ओर से घोषित हड़ताल बुधवार को भी जारी रहेगा। बेस्ट कामगार सेना के सुहास सावंत ने कहा कि हम नहीं चाहते कि लोग परेशान हो,इसलिए हमारे 11 हजार कर्मचारी रात को 11 बजे से काम पर आ जाएंगे।

सुबह से तकरीबन 500 बसें सड़कों पर चलेगी। बसों को पुलिस और बेस्ट प्रशासन की निगरानी में चलाया जाएगा। हम हड़ताल को वापस लेते हैं। गौरतलब है कि मंगलवार को दिनभर बेस्ट की हड़ताल को लेकर बेस्ट भवन और बीएमसी में बेस्ट प्रशासन और बेस्ट संयुक्त कृति समिति के बीच बैठकों का दौर जारी रहा। पहले दोपहर को मुंबई महानगरपालिका हड़ताल को लेकर आयोजित बैठक में कोई निर्णय नहीं निकला। बैठक में आयुक्त अजोय मेहता,बेस्ट के महाव्यवस्थापक सुरेंद्र बागड़े, बेस्ट समिति के अध्यक्ष आशिष चेम्बूरकर और बेस्ट कृति समिति के शशांक रॉव,बेस्ट की शिवसेना पार्टी की यूनिनन के सुहास सावंत आदि उपस्थित थे।

प्रशासन की ओर से हड़ताल में जाने वाले कर्मचारियों पर मेस्मा लगाने की घोषणा की गई है। बैठक में कोई भी पक्ष अपनी बातों से पीछे हटने के लिए तैयार नहीं दिखा। इसके कारण बैठक में कोई फैसला नहीं हो पाया। बेस्ट समिति के अध्यक्ष आशिष चेम्बूरकर ने कहा कि जल्द ही कोई न कोई रास्ता निकाला जाएगा। मुंबईकरों को हो रही परेशानी से निजात दिलाई जाएगी। सुहास सावंत ने कहा कि हड़ताल को हमारा नैतिक समर्थन है। जानबूझकर कुछ लोग हड़ताल का श्रेय लेने की कोशिश कर रहे हैं।

शशांक राव का कहना है कि जब तक हमारी मांगों को नहीं माना जाता हम पीछे नहीं हटेंगे। कल कर्मचारी शिवसेना को उसकी वास्तविकता से अवगत कराएंगे। बता दें कि शाम को एक बार फिर से हड़लाल को लेकर बेस्ट भवन में बेस्ट के महाप्रबंधक के साथ बैठक हुई,परंतु कोई निर्णय नहीं निकला। उसके बाद फिर से बीएमसी मुख्यालय में आयुक्त अजोय मेहता के साथ बैठक हुई। बैठक में शिवसेना यूनिनन के सुहास सावंत आदि उपस्थित थे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here