loading...

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और स्काई स्पोर्टस के क्रिकेट एक्सपर्ट बॉब विलिस का 70 साल की उम्र में निधन हो गया है।  विलिस 1982 से 1984 के बीच इंग्लैंड के कप्तान रहे बॉब विलिस लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे। इस तेज गेंदबाज ने एक दशक से ज्यादा इंग्लैंड के लिए खेला। उन्होंने 1971 में डेब्यू किया था, जिसके बाद उन्होंने 90 टेस्ट और 64 वनडे इंटरनेशनल मैच खेले। 1984 में रिटायरमेंट के बाद बॉब ने ब्रॉडकास्टिंग में लंबा वक्त बिताया। उन्होंने 1973 में वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया था।

विलिस ने अपना टेस्ट करियर 325 विकेटों के साथ खत्म किया। उन्होंने वनडे क्रिकेट में 80 विकेट लिए। इंग्लैंड के तरफ से टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने के मामले में आज भी बॉब का नंबर चौथा है। इस लिस्ट में पहले नंबर पर जेम्स एंडरसन 575 विकेटों के साथ हैं। उनके बाद स्टुअर्ट ब्रॉड 471 और इयान बॉथम 383 विकेट के साथ हैं। 

 

ICC टेस्ट चैंपियनशिप: जानिए क्यों इंग्लैंड-न्यूजीलैंड को नहीं मिले प्वॉइंट

INDvsWI, 1st T20I: हैदराबाद में क्या बारिश बिगाड़ेगी खेल? जानें मौसम का हाल

बॉब विलिस एशेज सीरीज 1981 में जीत के हीरो रहे थे। इस सीरीज को ‘बॉथम एशेज’ से भी जाना गया। इस सीरीज के हेडिंग्ले में खेले गए तीसरे टेस्ट की दूसरी पारी में उन्होंने 43 रन देकर 8 विकेट हासिल किए थे। इस मैच में इंग्लैंड की जीत काफी मुश्किल थी, लेकिन विलिस के शानदार परफॉर्मेंस के दम पर टीम ने जीत हासिल की। 

स्काई स्पोर्टस के मैनेजिंग डायरेक्टर रॉब बेवस्टर ने कहा, ”हम इस कठिन समय में बॉब के परिवार के साथ हैं। हमने ब्रिटिश खेल जगत और एक अद्भुत इंसान को खो दिया।” क्रिकेट जगत ने उनके निधन पर श्रद्धांजलि दी है।

बॉब विलिस के परिवार में उनकी पत्नी लॉरेन, बेटी केटी, भाई डेविड और बहन एन्न हैं। विलिस के निधन पर उनके परिवार ने कहा, ”अपने प्यारे बॉब को खोकर हम काफी दुखी हैं। वह एक अद्भुत पति, पिता, भाई और ग्रांडफादर थे। उन्हें जानने वालों पर उनका गहरा प्रभाव था और हम उन्हें मिस करेंगे।”

loading...