24 C
Mumbai
Sunday, December 6, 2020

राफेल डील: जॉइंट वेंचर में ऑफसेट का सिर्फ 10% हिस्सा रिलायंस के पास- दसॉ सीईओ

Must read

एमएलसी चुनाव में जीत मिलने पर सपाईयो ने मनाया जश्न

ज्ञानपुर। समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओ ने शनिवार को नगर के दुर्गागंज तिराहे पर नारेबाजी करते हुये एक दूसरे को मिठाई खिलालकर जीत...

अनियंत्रित कार गड्ढे में गिरी चार घायल

मोढ़। भदोही दुर्गागंज मार्ग पर मोढ़ बाजार में पूर्वी त्रिमूहानी के पास शुक्रवार की रात करीब 11 बजे गाड़ी नंबर भ्त्51ठळ1888 अनियंत्रित कार टकराकर...

सरकार की गलत नीतियों को शिक्षित वर्ग ने नकाराए विकास सपा जिलाध्यक्ष ने एमएलसी चुनाव में ऐतिहासिक जीत पर जताया आभार कहा किसानों के...

भदोही। विधान परिषद परिक्षेत्र वाराणसी में शिक्षक एवं स्नातक एमएलसी चुनाव में दोनों सीटों पर समाजवादी पार्टी की हुई ऐतिहासिक जीत पर समाजवादी पार्टी...

एमएलसी चुनाव में जीत मिलने पर सपाईयो ने मनाया जश्न

ज्ञानपुर। समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओ ने शनिवार को नगर के दुर्गागंज तिराहे पर नारेबाजी करते हुये एक दूसरे को मिठाई खिलालकर जीत...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

भारत में राफेल सौदे को लेकर राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. इसी बीच दसॉ कंपनी के सीईओ एरिक ट्रेपियर ने एक इंटरव्यू में कहा है कि रिलायंस के साथ दसॉ एविएशन का जॉइंट वेंचर राफेल लड़ाकू विमान करार के तहत करीब 10 फीसदी ऑफसेट निवेश का ही प्रतिनिधित्व करता है. ट्रेपियर ने यह भी कहा, हम करीब 100 भारतीय कंपनियों के साथ बातचीत कर रहे हैं जिनमें करीब 30 ऐसी हैं, जिनके साथ हमने पहले ही साझेदारी की पुष्टि कर दी है.

जब ऑफसेट के बारे में पूछा गया तो ट्रेपियर ने कहा कि भारतीय कानून (रक्षा खरीद प्रक्रिया) के अनुसार ऑफसेट कॉन्ट्रैक्ट करना अनिवार्य है. उन्होंने कहा कि भारतीय रेगुलेशन के अनुसार ऑफसेट का चुनाव करना हमारा काम है.

जब ट्रेपियर से यह पूछा गया कि आपने ऑफसेट पार्टनर के लिए हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) की बजाय रिलायंस को क्यों चुना? इस पर उन्होंने कहा कि दसॉ एविएशन, डीआरएएल के माध्यम से भारत में लंबे समय के लिए रहने का फैसला किया. यह एक ऐसा जॉइंट वेंचर है, जिसमें प्रशासनिक कार्य के लिए एक भारतीय और एक फ्रांसिसी चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर मौजूद रहेंगे.

देश में इस मुद्दे पर हो रही भारी राजनीतिक के बीच रक्षा मंत्री फ्रांस के दौरे पर हैं. गुरुवार को पेरिस में निर्मला सीतारमण ने मोदी सरकार के इस दावे को दोहराया कि उसे कोई भनक नहीं थी कि दसॉ एविएशन अनिल अंबानी की अगुवाई वाले रिलायंस ग्रुप के साथ गठजोड़ करेगा.

मीडिया में आई कई खबरों में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दसॉ को मजबूर किया था कि वह रिलायंस को अपने साझेदार के तौर पर चुने जबकि रिलायंस के पास उड्डयन क्षेत्र में कोई अनुभव नहीं था.

सौदे के लिए ऑफसेट दायित्व अनिवार्य, कंपनियों के नाम नहीं

बुधवार को फ्रांस की मीडियापार्ट ने खबर दी थी कि राफेल विनिर्माता दसॉ एविएशन को यह सौदा करने के लिए भारत में अपने ऑफसेट साझेदार के तौर पर अंबानी की कंपनी रिलायंस डिफेंस को चुनना पड़ा. जब इन आरोपों के बारे में पूछा गया तो सीतारमण ने कहा कि सौदे के लिए ऑफसेट दायित्व अनिवार्य था, न कि कंपनियों के नाम.

मीडियापार्ट का यह खुलासा ऐसे समय में आया है जब उससे पहले पूर्व फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने पिछले महीने कहा था कि फ्रांस को दसॉ के लिए भारतीय साझेदार के चयन के लिए कोई विकल्प नहीं दिया गया था और भारत सरकार ने इसी भारतीय कंपनी का नाम प्रस्तावित किया था. ओलांद जब फ्रांस के राष्ट्रपति थे तभी यह सौदा हुआ था.

कांग्रेस इस सौदे में में भारी अनियमितताओं का आरोप लगा रही है और कह रही है कि सरकार 1670 करोड़ रुपए प्रति विमान की दर से राफेल खरीद रही है जबकि यूपीए सरकार के समय इस सौदे पर बातचीत के दौरान इस विमान की कीमत 526 करोड़ रुपए प्रति राफेल तय हुई थी. कांग्रेस दसॉ के ऑफसेट पार्टनर के तौर पर रिलायंस डिफेंस के चयन को लेकर भी सरकार को निशाना बना रही है.

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

एमएलसी चुनाव में जीत मिलने पर सपाईयो ने मनाया जश्न

ज्ञानपुर। समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओ ने शनिवार को नगर के दुर्गागंज तिराहे पर नारेबाजी करते हुये एक दूसरे को मिठाई खिलालकर जीत...

अनियंत्रित कार गड्ढे में गिरी चार घायल

मोढ़। भदोही दुर्गागंज मार्ग पर मोढ़ बाजार में पूर्वी त्रिमूहानी के पास शुक्रवार की रात करीब 11 बजे गाड़ी नंबर भ्त्51ठळ1888 अनियंत्रित कार टकराकर...

सरकार की गलत नीतियों को शिक्षित वर्ग ने नकाराए विकास सपा जिलाध्यक्ष ने एमएलसी चुनाव में ऐतिहासिक जीत पर जताया आभार कहा किसानों के...

भदोही। विधान परिषद परिक्षेत्र वाराणसी में शिक्षक एवं स्नातक एमएलसी चुनाव में दोनों सीटों पर समाजवादी पार्टी की हुई ऐतिहासिक जीत पर समाजवादी पार्टी...

एमएलसी चुनाव में जीत मिलने पर सपाईयो ने मनाया जश्न

ज्ञानपुर। समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओ ने शनिवार को नगर के दुर्गागंज तिराहे पर नारेबाजी करते हुये एक दूसरे को मिठाई खिलालकर जीत...

कोर्ट के आदेश पर चार के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज

कोइरौना। स्थानीय थाना क्षेत्र के कटरा चौकी अंतर्गत स्थित अतिबलशाहपट्टी मवैयाथानसिंह गांव निवासी राजकुमार दुबे पुत्र स्व चौहर्जा प्रसाद दुबे 35 वर्ष के संदेहास्पद...