26 C
Mumbai
Thursday, December 3, 2020

नदियों का पानी रोकने की घोषणा पर पाकिस्तान का जवाब, कहा- भारत के बस की बात नहीं

Must read

युवती अपहरण मामले में नया मोड़, दुष्कर्म पीड़िता ने जारी किया वीडियो

यूपी के फतेहपुर जिले में रेप पीड़िता के अपहरण से मची सनसनी के मामले में बुधवार को नया मोड़ आ गया। सोमवार को युवती...

यूपी: 30 फीट के गहरे बोरवेल में गिरा चार साल का बच्चा, बच्चे जान बचाने की कोशिशें जारी

महोबा जिले में कुलपहाड़ क्षेत्र के बुधौरा गांव में बुधवार को किसान भागीरथ कुशवाहा का चार साल का इकलौता बेटा धर्नेंद्र उर्फ बाबू 30...

बिहार: डीआरआई को मिली बड़ी कामयाबी, 1.5 किलो सोने के बिस्किट के साथ महिला अपराधी समेत दो गिरफ्तार

सोना तस्करी के खिलाफ डीआरआई को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। म्यांमार से तस्करी कर गुवाहाटी लाए गए डेढ़ किलो सोने को दो व्यक्ति...

बाइक सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े बिहार में पशुपालन विभाग के रिटायर्ड पदाधिकारी से 2.5 लाख रुपए छीने

बिहार के सहरसा जिले के बटराहा मुहल्ला स्थित घर के पास बुधवार को दिनदहाड़े बदमाशों ने सेवानिवृत्त पदाधिकारी से ढाई लाख रुपए की छिनतई...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

लाहौर। भारत की ओर से नदियों का पानी रोकने के जवाब में पाकिस्तान ने कहा है कि यह भारत के वश की बात नहीं है। रावी, व्यास और सतलज तीन नदियों का पानी रोकने के फैसले पर पाकिस्तान ने अपना जवाब देते हुए कहा है है कि भारत में हमारे पानी को रोकने की क्षमता नहीं है। आपको बता दें कि गुरुवार को केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि इन तीन नदियों का पानी पाकिस्तान को दिए जाने की बजाय यमुना में छोड़ा जाएगा। अब इस पर पाकिस्तान की ओर से तीखी प्रतिक्रिया आई है।

पाकिस्तान में युद्ध का खौफ, एलओसी के पास खाली कराए जा रहे गांव

भारत के वश की बात नहीं

पकिस्तान स्थित सिंधु जल आयोग के उप-प्रमुख शेराज मेमन का कहना है कि पानी रोकने को लेकर हमारे पास कोई जानकारी नहीं आई है। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा कुछ होता है तो यह गलत होगा। आगे बोलते हुए उन्होंने कहा कि भारत में इन नदियों का पानी को रोकने या मोड़ने की क्षमता नहीं है। आपको बता दें कि भारत और पाकिस्तान के बीच 1960 में सिंधु जल समझौता हुआ।

सियोल में गरजे पीएम मोदी, आतंकवाद पर कड़े फैसले लेने का वक्त आ गया है

सिंधु जल समझौते में क्या है व्यवस्था

इस समझौते के तहत 6 नदियों के पानी का बंटवारा किया गया था जो भारत से पाकिस्तान में जाती हैं। इस समझौते के तहत रावी, व्यास और सतलज के पानी पर भारत को पूरा अधिकार दिया गया। 3 नदियों झेलम, चिनाब और सिंधु का पानी बिना किसी रोक टोक के पाकिस्तान को मिलना तय हुआ। सिंधु जल समझौते के तहत तीन नदियों- झेलम, चेनाब और सिंधु के पानी का 80 फीसदी इस्तेमाल पाकिस्तान और 20 फीसदी का इस्तेमाल भारत कर सकते हैं। लेकिन बताया जा रहा है कि भारत इन नदियों के पानी का पूरा इस्तेमाल नहीं कर पाता है। इसलिये भारत अपने हिस्से का पानी भी पाकिस्तान को दे देता है। भारत के इस पानी को रोकने के बाद अब पाकिस्तान को मिलने वाला अतिरिक्त पानी उसको नहीं मिल पाएगा।

Read the Latest World News on Metrocitysamachar.com पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi मेट्रो सिटी समाचार डॉट कॉम पर

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

युवती अपहरण मामले में नया मोड़, दुष्कर्म पीड़िता ने जारी किया वीडियो

यूपी के फतेहपुर जिले में रेप पीड़िता के अपहरण से मची सनसनी के मामले में बुधवार को नया मोड़ आ गया। सोमवार को युवती...

यूपी: 30 फीट के गहरे बोरवेल में गिरा चार साल का बच्चा, बच्चे जान बचाने की कोशिशें जारी

महोबा जिले में कुलपहाड़ क्षेत्र के बुधौरा गांव में बुधवार को किसान भागीरथ कुशवाहा का चार साल का इकलौता बेटा धर्नेंद्र उर्फ बाबू 30...

बिहार: डीआरआई को मिली बड़ी कामयाबी, 1.5 किलो सोने के बिस्किट के साथ महिला अपराधी समेत दो गिरफ्तार

सोना तस्करी के खिलाफ डीआरआई को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। म्यांमार से तस्करी कर गुवाहाटी लाए गए डेढ़ किलो सोने को दो व्यक्ति...

बाइक सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े बिहार में पशुपालन विभाग के रिटायर्ड पदाधिकारी से 2.5 लाख रुपए छीने

बिहार के सहरसा जिले के बटराहा मुहल्ला स्थित घर के पास बुधवार को दिनदहाड़े बदमाशों ने सेवानिवृत्त पदाधिकारी से ढाई लाख रुपए की छिनतई...

हवाई फायरिंग करते हुए गोपालगंज के व्यवसायी की बेतिया में गोली मारकर की हत्या, बदमाश हुए फरार

बिहार के बेतिया में मनुआपुल के जोकहां रेलवे ढाला के समीप गोपालगंज के कटेया थाने की रामदास बगही पंचायत के सैदपुरा गांव निवासी व्यवसायी...