26.5 C
Mumbai
Wednesday, June 3, 2020
विज्ञापन
Loading...

निवेशकों को शेयर बाजार ने दिया 37.59 लाख करोड़ का झटका, बहुत बुरा रहा वित्त वर्ष 2019-20 

विज्ञापन
Loading...

Must read

वन नेशन वन मार्केट की दिशा में हम आगे बढ़े हैं: केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर

पीएम नरेंद्र मोदी की अगुआई में बुधवार को कैबिनेट की बैठक में कई अहम फैसले लिए गए। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि...

कोरोना के खिलाफ साथ आए भारत-अमेरिका, ट्रंप और मोदी के बीच हुई बात

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हुई बातचीत के दौरान बताया कि उनका देश भारत को दान में दिए...

सोनू सूद की तस्वीर मंदिर में रखकर पूजा कर रहे युवक से एक्टर ने की भावुक अपील, देखें वीडियो

फिल्म अभिनेता सोनू सूद प्रवासी मजदूरों के लिए लगातार कोशिश कर रहे हैं कि वह अपने घर बिना किसी मुश्किल के पहुंच सके।...

डोनाल्ड ट्रंप के फेसबुक पोस्ट पर बवाल, जुकरबर्ग ने ऐसे किया बचाव

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा की गई विवादित पोस्ट पर कार्रवाई करने के लिए कंपनी के भीतर नाराजगी बढ़ने के साथ ही फेसबुक के...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

शेयर बाजार में गिरावट के साथ वित्त वर्ष 2019-20 में निवेशकों को 37.59 लाख करोड़ रुपये की चपत लगी। इस दौरान बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स करीब 24 प्रतिशत टूटा। इसमें सबसे ज्यादा गिरावट मार्च में हुई जब कोरोना अपना कहर बरपाने लगा। दुनियाभर के बाजारों की तरह घरेलू स्टॉक मार्केट के लिए मार्च का महीना दुस्वप्न रहा। इस महीने सेंसेक्स 8,828.8 अंक यानी 23 प्रतिशत नीचे आया।

सेंसेक्स 9,204.42 और निफ्टी 3,026.15 अंक लुढ़का

30 शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स 2019-20 में 9,204.42 अंक यानी 23.80 प्रतिशत लुढ़क गया। वहीं एनएसई निफ्टी 3,026.15 अंक यानी 26.03 प्रतिशत टूटा।शेयर बाजार में बड़े स्तर पर बिकवाली से बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण वित्त वर्ष के दौरान 37,59,954.42 करोड़ रुपये घटकर 1,13,48,756.59 करोड़ रुपये रह गया। बाजार के लिए मार्च का महीना दुस्वप्न रहा।

मार्च 2020 की सेंसेक्स में 5 सबसे बड़ी गिरावट

तारीखसेंसेक्स में गिरावट
23 मार्च3,090
18 मार्च1709
16 मार्च2713
12 मार्च2919
9 मार्च1941

माह के दौरान सेंसेक्स 8,828.8 अंक यानी 23 प्रतिशत नीचे आया। इसका कारण कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए दुनियया भर में ‘लॉकडाउन का होना है। इसके कारण वैश्विक मंदी की आशंका बढ़ी है।  बाजार में बिकवाली इतना जबर्दस्त था कि 24 मार्च को सेंसेक्स लुढ़क कर एक साल के न्यूनतम स्तर 25,638.9 अंक पर आ गया। केवल दो महीने पहले 20 जनवरी को यह 42,273.87 करोड़ रुपये के उच्चतम स्तर पर था।

sensex down 3090 points

वर्ष 2019-20 में बाजार कई ऊंचाइयों को छुआ

वित्त वर्ष 2018-19 में बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 8,83,714.01 करोड़ रुपये बढ़कर 1,51,08,711.01 करोड़ रुपये पहुंच गया था।     वित्त वर्ष 2019-20 में बाजार कई ऊंचाइयों को छुआ। बीएसई सेंसेक्स ऐतिहासिक 40,000 अंक को पार किया और एनएसई निफ्टी 12,000 के स्तर से ऊपर निकलने में सफल रहा।

रिलायंस  पहले पायदान पर

बड़ी कंपनियों के शेयरों की बिकवली से भी 2019-20 में बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण नीचे आया। रिलायंस इंडस्ट्रीज फिलहाल 7,05,211.81 करोड़ रुपये के साथ पहले पायदान पर है। उसके बाद टीसीएस 6,84,078.49 करोड़ रुपये के साथ दूसरे स्थान पर है। पिछले साल नवंबर में रिलायंस 10 लाख करोड़ रुपये का बाजार पूंजीकरण वाली पहली भारतीय कंपनी बनी।

विज्ञापन
Loading...

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

वन नेशन वन मार्केट की दिशा में हम आगे बढ़े हैं: केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर

पीएम नरेंद्र मोदी की अगुआई में बुधवार को कैबिनेट की बैठक में कई अहम फैसले लिए गए। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि...

कोरोना के खिलाफ साथ आए भारत-अमेरिका, ट्रंप और मोदी के बीच हुई बात

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हुई बातचीत के दौरान बताया कि उनका देश भारत को दान में दिए...

सोनू सूद की तस्वीर मंदिर में रखकर पूजा कर रहे युवक से एक्टर ने की भावुक अपील, देखें वीडियो

फिल्म अभिनेता सोनू सूद प्रवासी मजदूरों के लिए लगातार कोशिश कर रहे हैं कि वह अपने घर बिना किसी मुश्किल के पहुंच सके।...

डोनाल्ड ट्रंप के फेसबुक पोस्ट पर बवाल, जुकरबर्ग ने ऐसे किया बचाव

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा की गई विवादित पोस्ट पर कार्रवाई करने के लिए कंपनी के भीतर नाराजगी बढ़ने के साथ ही फेसबुक के...

Cyclone Nisarga: महाराष्ट्र में रहते हैं तो भूलकर भी न करें ये चीजें, कहर मचाने आ रहा साइक्लोन निसर्ग

महाराष्ट्र में चक्रवात निसर्ग (Cyclone Nisarga) बुधवार दोपहर एक बजे से तीन बजे के बीच दस्तक देने वाला है। इससे पहले ही महाराष्ट्र...