26 C
Mumbai
Thursday, December 3, 2020

NCLAT की मंजूरी के बिना ILFS के खातों को नहीं किया जा सकता है NPA घोषित

Must read

युवती अपहरण मामले में नया मोड़, दुष्कर्म पीड़िता ने जारी किया वीडियो

यूपी के फतेहपुर जिले में रेप पीड़िता के अपहरण से मची सनसनी के मामले में बुधवार को नया मोड़ आ गया। सोमवार को युवती...

यूपी: 30 फीट के गहरे बोरवेल में गिरा चार साल का बच्चा, बच्चे जान बचाने की कोशिशें जारी

महोबा जिले में कुलपहाड़ क्षेत्र के बुधौरा गांव में बुधवार को किसान भागीरथ कुशवाहा का चार साल का इकलौता बेटा धर्नेंद्र उर्फ बाबू 30...

बिहार: डीआरआई को मिली बड़ी कामयाबी, 1.5 किलो सोने के बिस्किट के साथ महिला अपराधी समेत दो गिरफ्तार

सोना तस्करी के खिलाफ डीआरआई को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। म्यांमार से तस्करी कर गुवाहाटी लाए गए डेढ़ किलो सोने को दो व्यक्ति...

बाइक सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े बिहार में पशुपालन विभाग के रिटायर्ड पदाधिकारी से 2.5 लाख रुपए छीने

बिहार के सहरसा जिले के बटराहा मुहल्ला स्थित घर के पास बुधवार को दिनदहाड़े बदमाशों ने सेवानिवृत्त पदाधिकारी से ढाई लाख रुपए की छिनतई...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

नर्इ दिल्ली। कोई भी बैंक या वित्तीय संस्थान राष्ट्रीय कंपनी कानून अपीलीय न्यायाधिकरण (एनसीएलएटी) की मंजूरी के बगैर कर्ज में फंसी कंपनी आईएलएंडएफसी तथा समूह की अन्य कंपनियों के खाते को गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) घोषित नहीं कर सकता। एनसीएलएटी ने सोमवार को इसकी जानकारी दी।

न्यायमूर्ति एसजे मुखोपाध्याय की अध्यक्षता वाली एनसीएलएटी की दो सदस्यीय पीठ ने कहा कि यह फैसला आईएलएंडएफएस की ऋण शोधन योजना को ध्यान में रख किया गया है। न्यायाधिकरण ने कहा, “एनसीएलएटी की मंजूरी के बिना कोई भी बैंक या वित्तीय संस्थान आईएलएंडएफएस और इसकी अनुषंगियों को एनपीए घोषित नहीं कर सकता।” न्यायाधिकरण ने आईएलएंडएफएस समूह की कंपनियों के ऋण शोधन की सरकार की योजना पर सुनवाई करते हुए यह फैसला दिया।

यह भी पढ़ें – र्इ-काॅमर्स ड्राफ्ट पाॅलिसी से न सिर्फ देश का डेटा सुरक्षित होगा बल्कि नौकरियों के अवसर भी बढ़ेंगे

11 फरवरी को अंतिम सुनवाई के दौरान, nclat ने अपने वित्तीय दायित्वों को पूरा करने के लिए IL&FS समूह की 22 कंपनियों को अनुमति दी थी, जिन्हें उनके वित्तीय स्वास्थ्य के आधार पर ग्रीन श्रेणी में वर्गीकृत किया गया था। इसके अलावा, उसने संकटग्रस्त आईएलएंडएफएस और उसकी समूह की कंपनियों की संकल्प प्रक्रिया की निगरानी के लिए सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति डी के जैन की नियुक्ति को भी मंजूरी दे दी थी। अपीलीय न्यायाधिकरण ने भी रोक हटा दी और संकल्प प्रक्रिया को जारी रखने के लिए भारत से बाहर शामिल 133 आईएलएंडएफएस फर्मों को अनुमति दी।

यह भी पढ़ें – रिलायंस रिटेल की लिस्टिंग की तैयारी में RIL

वित्तीय आधार पर तीन समूहों में बांटी गर्इ आईएलएंडएफएस समूह की कंपनियां

बता दें कि आईएलएंडएफएस समूह की कंपनियों को उनके संबंधित वित्तीय पदों के आधार पर तीन समूहों – ग्रीन, एम्बर और रेड – में वर्गीकृत किया गया है। ग्रीन श्रेणी के अंतर्गत आने वाली कंपनियां अपने भुगतान दायित्व को पूरा करती रहेंगी। जबकि जो कंपनियां अपने दायित्वों को पूरा नहीं कर सकती हैं लेकिन वरिष्ठ सुरक्षित वित्तीय लेनदारों को केवल परिचालन भुगतान दायित्वों को पूरा कर सकती हैं उन्हें एम्बर के रूप में वर्गीकृत किया गया है। लाल श्रेणी में वे इकाइयां शामिल हैं, जो अपने भुगतान दायित्वों को वरिष्ठ सुरक्षित वित्तीय लेनदारों के प्रति भी पूरा नहीं कर सकती हैं।

Read the Latest Business News on Metrocitysamachar.com पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में मेट्रो सिटी समाचार पर।

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

युवती अपहरण मामले में नया मोड़, दुष्कर्म पीड़िता ने जारी किया वीडियो

यूपी के फतेहपुर जिले में रेप पीड़िता के अपहरण से मची सनसनी के मामले में बुधवार को नया मोड़ आ गया। सोमवार को युवती...

यूपी: 30 फीट के गहरे बोरवेल में गिरा चार साल का बच्चा, बच्चे जान बचाने की कोशिशें जारी

महोबा जिले में कुलपहाड़ क्षेत्र के बुधौरा गांव में बुधवार को किसान भागीरथ कुशवाहा का चार साल का इकलौता बेटा धर्नेंद्र उर्फ बाबू 30...

बिहार: डीआरआई को मिली बड़ी कामयाबी, 1.5 किलो सोने के बिस्किट के साथ महिला अपराधी समेत दो गिरफ्तार

सोना तस्करी के खिलाफ डीआरआई को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। म्यांमार से तस्करी कर गुवाहाटी लाए गए डेढ़ किलो सोने को दो व्यक्ति...

बाइक सवार बदमाशों ने दिनदहाड़े बिहार में पशुपालन विभाग के रिटायर्ड पदाधिकारी से 2.5 लाख रुपए छीने

बिहार के सहरसा जिले के बटराहा मुहल्ला स्थित घर के पास बुधवार को दिनदहाड़े बदमाशों ने सेवानिवृत्त पदाधिकारी से ढाई लाख रुपए की छिनतई...

हवाई फायरिंग करते हुए गोपालगंज के व्यवसायी की बेतिया में गोली मारकर की हत्या, बदमाश हुए फरार

बिहार के बेतिया में मनुआपुल के जोकहां रेलवे ढाला के समीप गोपालगंज के कटेया थाने की रामदास बगही पंचायत के सैदपुरा गांव निवासी व्यवसायी...