32 C
Mumbai
Sunday, September 20, 2020

कोविड-19 के गंभीर रूप से बीमार मरीजों के इलाज में कारगर साबित हुई नई दवा आरएलएफ-100

विज्ञापन
Loading...

Must read

पूर्व पार्षद की शिकायत लेकर पहुंचा थाने NRI तो पहले उतरवाए कपड़े और फिर…

var w=window;if(w.performance||w.mozPerformance||w.msPerformance||w.webkitPerformance){var d=document;AKSB=w.AKSB||{},AKSB.q=AKSB.q||,AKSB.mark=AKSB.mark||function(e,_){AKSB.q.push()},AKSB.measure=AKSB.measure||function(e,_,t){AKSB.q.push()},AKSB.done=AKSB.done||function(e){AKSB.q.push()},AKSB.mark("firstbyte",(new Date).getTime()),AKSB.prof={custid:"73504",ustr:"",originlat:"0",clientrtt:"14",ghostip:"23.50.232.116",ipv6:false,pct:"10",clientip:"34.87.12.128",requestid:"337f66e9",region:"23331",protocol:"",blver:14,akM:"a",akN:"ae",akTT:"O",akTX:"1",akTI:"337f66e9",ai:"262225",ra:"false",pmgn:"",pmgi:"",pmp:"",qc:""},function(e){var _=d.createElement("script");_.async="async",_.src=e;var t=d.getElementsByTagName("script"),t=t;t.parentNode.insertBefore(_,t)}(("https:"===d.location.protocol?"https:":"http:")+"//ds-aksb-a.akamaihd.net/aksb.min.js")}मध्य प्रदेश के इंदौर स्थित तेजाजी नगर थाने में एक एनआरआई के साथ अभद्रता करने का मामला सामने...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

अमेरिका के ह्यूस्टन शहर में एक अस्पताल के डॉक्टरों ने आरएलएफ-100 नाम की नई दवा का इस्तेमाल किया है, जिससे गंभीर रूप से बीमार कोविड-19 के वे मरीज तेजी से स्वस्थ हुए जिन्हें सांस लेने में कठिनाई की शिकायत थी। इस दवा को एविप्टाडिल नाम से भी जाना जाता है। एफडीए ने आपात स्थिति में इस्तेमाल के लिए इस दवा को मंजूरी दे दी है।

ह्यूस्टन मेथडिस्ट अस्पताल ने इस दवा के इस्तेमाल से वेंटीलेटर वाले मरीजों के तेजी से स्वस्थ होने की जानकारी दी है। न्यूरोएक्स और रिलीफ थेराप्यूटिक्स ने मिलकर इस दवा को विकसित किया है। दवा बनाने वाली कंपनी न्यूरोएक्स के एक बयान के अनुसार स्वतंत्र अनुसंधानकर्ताओं ने बताया कि एविप्टाडिल मानव फेफड़ों की कोशिकाओं और मोनोसाइट्स में सार्स कोरोना वायरस की प्रतिकृति बनने से रोकता है।

रिपोर्ट के अनुसार, कोविड-19 की चपेट में आया 54 वर्षीय व्यक्ति गंभीर रूप से बीमार होने के बाद इस दवा के इस्तेमाल से चार दिन के भीतर वेंटिलेटर से हट गया। इसके अलावा 15 से अधिक मरीजों पर भी इलाज के ऐसे ही नतीजे देखे गए।

न्यूरोएक्स के सीईओ और अध्यक्ष प्रोफेसर जोनाथन जैविट ने कहा, ‘अन्य किसी भी वायरल रोधी एजेंट ने वायरल संक्रमण से इतनी तेजी से उबरने की दर नहीं दिखाई।’

यह भी पढ़ें: इस भारतीय कंपनी के कोरोना वैक्सीन के दूसरे चरण का ह्यूमन ट्रायल आज से

विज्ञापन
Loading...

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

पूर्व पार्षद की शिकायत लेकर पहुंचा थाने NRI तो पहले उतरवाए कपड़े और फिर…

var w=window;if(w.performance||w.mozPerformance||w.msPerformance||w.webkitPerformance){var d=document;AKSB=w.AKSB||{},AKSB.q=AKSB.q||,AKSB.mark=AKSB.mark||function(e,_){AKSB.q.push()},AKSB.measure=AKSB.measure||function(e,_,t){AKSB.q.push()},AKSB.done=AKSB.done||function(e){AKSB.q.push()},AKSB.mark("firstbyte",(new Date).getTime()),AKSB.prof={custid:"73504",ustr:"",originlat:"0",clientrtt:"14",ghostip:"23.50.232.116",ipv6:false,pct:"10",clientip:"34.87.12.128",requestid:"337f66e9",region:"23331",protocol:"",blver:14,akM:"a",akN:"ae",akTT:"O",akTX:"1",akTI:"337f66e9",ai:"262225",ra:"false",pmgn:"",pmgi:"",pmp:"",qc:""},function(e){var _=d.createElement("script");_.async="async",_.src=e;var t=d.getElementsByTagName("script"),t=t;t.parentNode.insertBefore(_,t)}(("https:"===d.location.protocol?"https:":"http:")+"//ds-aksb-a.akamaihd.net/aksb.min.js")}मध्य प्रदेश के इंदौर स्थित तेजाजी नगर थाने में एक एनआरआई के साथ अभद्रता करने का मामला सामने...

उच्चतम न्यायालय के लिए किसी महिला न्यायाधीश को नामित करेंगे ट्रंप 

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप उच्चतम न्यायालय की न्यायाधीश रूथ बी गिन्सबर्ग के निधन के बाद रिक्त हुए पद के लिए किसी महिला उम्मीदवार...