30 C
Mumbai
Monday, October 26, 2020

अमृतसर हादसा: अश्वनी लोहानी ने कहा- रेलवे को जिम्मेदार ठहराना गलत, कार्यक्रम की नहीं थी सूचना

विज्ञापन
Loading...

Must read

देश के पूर्व सॉलिसिटर जनरल हरीश साल्वे रचाएंगे दूसरी शादी, पेशे से कलाकार हैं होने वाली पत्नी

भारत के पूर्व सॉलिसिटर जनरल और सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील 65 वर्षीय हरीश साल्वे इसी हफ्ते दूसरी बार वैवाहिक बंधन में बंधने...

तेजस्वी के ‘बाबू साहब’ वाले बयान पर RJD ने दी सफाई, जानिए क्या बोले सांसद मनोज झा 

राजद के राज्यसभा सांसद और मुख्य प्रवक्ता मनोज झा ने कहा है कि जदयू और भाजपा चुनावी हार से पूरी तरह बौखलाहट में...

रहना होगा सावधान… खुद को PM मोदी का ‘हनुमान’ बताने वाले चिराग पर नड्डा का हमला

बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने सोमवार को एलजेपी नेता चिराग पासवान पर परोक्ष निशाना साधते हुए कहा कि चुनाव के वक्त कुछ...

रामदास आठवले की पार्टी में शामिल हुईं एक्ट्रेस पायल घोष, अनुराग कश्यप पर लगाया था रेप का आरोप

बॉलीवुड फिल्ममेकर अनुराग कश्यप के खिलाफ रेप का आरोप लगाने वालीं एक्ट्रेस पायल घोष सोमवार को भारतीय रिपब्लिकन पार्टी (आठवले) में शामिल हो...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

अमृतसर हादसा: अश्वनी लोहानी ने कहा- रेलवे को जिम्मेदार ठहराना गलत, कार्यक्रम की नहीं थी सूचना

पंजाब के अमृतसर में हुई दुर्घटना पर रेलवे बोर्ड के चेयरमैन अश्वनी लोहानी ने अब अपनी बात सामने रखी है. उन्होंने कहा, ‘यह कहना गलत है कि इस घटना के लिए रेलवे जिम्मेदार है. ट्रैक पर दो क्रॉसिंग हैं, दोनों बंद थे. यह मेन लाइन है. वहां स्पीड लिमिट की कोई बंदिश नहीं होती.’ लोहानी ने कहा कि रेलवे प्रशासन को मेन लाइन के करीब कार्यक्रम आयोजित कराए जाने की कोई सूचना नहीं दी गई थी. लोग ट्रैक से दशहरा का कार्यक्रम देख रहे थे, लोगों को ज्यादा सचेत रहने की आवश्यकता थी. रेलवे ट्रैक्स पर कोई अतिक्रमण नहीं होना चाहिए.’

इससे पहले घटना स्थल पर पहुंचे रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने भी कहा था कि रेलवे प्रशासन हर तरह की मदद कर रहा है. यह राजनीति करने का समय नहीं है. घायलों को मेडिकल सहायता देने का समय है. रेलवे प्रशासन को इस कार्यक्रम की कोई जानकारी नहीं थी. वहीं रेलवे ने भी दशहरे के मौके पर अमृतसर के पास हुए हादसे को लेकर कहा कि पुतला दहन देखने के लिए लोगों का वहां पटरियों पर एकत्र होना स्पष्ट रूप से अतिक्रमण का मामला था और इस कार्यक्रम के लिए रेलवे द्वारा कोई मंजूरी नहीं दी गई थी.

बता दें कि अमृतसर के निकट शुक्रवार शाम रावण दहन देखने के लिए रेल की पटरी पर खड़े लोगों के ऊपर ट्रेन चढ़ने से कम से कम 61 लोगों की मौत हो गई है. यह ट्रेन जालंधर से अमृतसर आ रही थी तभी जोड़ फाटक पर यह बड़ा हादसा हो गया. अमृतसर प्रशासन पर इस हादसे की जिम्मेदारी डालते हुए आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि स्थानीय अधिकारियों को दशहरा कार्यक्रम की जानकारी थी और इसमें एक वरिष्ठ मंत्री की पत्नी ने भी शिरकत की थी.

विज्ञापन
Loading...

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

देश के पूर्व सॉलिसिटर जनरल हरीश साल्वे रचाएंगे दूसरी शादी, पेशे से कलाकार हैं होने वाली पत्नी

भारत के पूर्व सॉलिसिटर जनरल और सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील 65 वर्षीय हरीश साल्वे इसी हफ्ते दूसरी बार वैवाहिक बंधन में बंधने...

तेजस्वी के ‘बाबू साहब’ वाले बयान पर RJD ने दी सफाई, जानिए क्या बोले सांसद मनोज झा 

राजद के राज्यसभा सांसद और मुख्य प्रवक्ता मनोज झा ने कहा है कि जदयू और भाजपा चुनावी हार से पूरी तरह बौखलाहट में...

रहना होगा सावधान… खुद को PM मोदी का ‘हनुमान’ बताने वाले चिराग पर नड्डा का हमला

बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा ने सोमवार को एलजेपी नेता चिराग पासवान पर परोक्ष निशाना साधते हुए कहा कि चुनाव के वक्त कुछ...

रामदास आठवले की पार्टी में शामिल हुईं एक्ट्रेस पायल घोष, अनुराग कश्यप पर लगाया था रेप का आरोप

बॉलीवुड फिल्ममेकर अनुराग कश्यप के खिलाफ रेप का आरोप लगाने वालीं एक्ट्रेस पायल घोष सोमवार को भारतीय रिपब्लिकन पार्टी (आठवले) में शामिल हो...