24 C
Mumbai
Sunday, December 6, 2020

जौनपुर में मनाई आजादी की महानायिका झलकारीबाई की 190वीं जयंती, जानें उनके बारे में

Must read

एमएलसी चुनाव में जीत मिलने पर सपाईयो ने मनाया जश्न

ज्ञानपुर। समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओ ने शनिवार को नगर के दुर्गागंज तिराहे पर नारेबाजी करते हुये एक दूसरे को मिठाई खिलालकर जीत...

अनियंत्रित कार गड्ढे में गिरी चार घायल

मोढ़। भदोही दुर्गागंज मार्ग पर मोढ़ बाजार में पूर्वी त्रिमूहानी के पास शुक्रवार की रात करीब 11 बजे गाड़ी नंबर भ्त्51ठळ1888 अनियंत्रित कार टकराकर...

सरकार की गलत नीतियों को शिक्षित वर्ग ने नकाराए विकास सपा जिलाध्यक्ष ने एमएलसी चुनाव में ऐतिहासिक जीत पर जताया आभार कहा किसानों के...

भदोही। विधान परिषद परिक्षेत्र वाराणसी में शिक्षक एवं स्नातक एमएलसी चुनाव में दोनों सीटों पर समाजवादी पार्टी की हुई ऐतिहासिक जीत पर समाजवादी पार्टी...

एमएलसी चुनाव में जीत मिलने पर सपाईयो ने मनाया जश्न

ज्ञानपुर। समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओ ने शनिवार को नगर के दुर्गागंज तिराहे पर नारेबाजी करते हुये एक दूसरे को मिठाई खिलालकर जीत...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

उत्तर प्रदेश में जौनपुर के सरांवा गांव में स्थित शहीद लाल बहादुर गुप्त स्मारक पर आज हिन्दुस्तान सोशलिस्ट रिपब्लिकंन आर्मी व लक्ष्मीबाई ब्रिगेड के कार्यकतार्ओं ने देश की प्रथम आज़ादी की महानायिका एवं वीरांगना झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की प्रिय सहेली झलकारी बाई की 190 वां जयंती मनाई। इस अवसर पर कार्यकतार्ओं ने शहीद स्मारक मोमबत्ती व अगरबत्ती जला कर उन्हें अपनी श्रंद्धाजलि दी।

शहीद स्मारक पर उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए लक्ष्मीबाई ब्रिगेड की अध्यक्षा मंजीत कौर ने कहा कि भारत की स्वाधीनता के लिए 1857 में हुए संग्राम में पुरुषों के साथ महिलाओं ने भी कन्धे से कन्धा मिलाकर बराबर का सहयोग दिया था। कहीं-कहीं तो उनकी वीरता को देखकर अंग्रेज अधिकारी एवं पुलिसकर्मी आश्चर्यचकित रह जाते थे। ऐसी ही एक वीरांगना थी झलकारी बाई, जिसने अपने वीरोचित कार्यों से पुरुषों को भी पीछे छोड़ दिया।

क्ष्मीबाई ब्रिगेड की अध्यक्षा ने कहा कि वीरांगना झलकारी बाई का जन्म 22 नवम्बर, 1830 को ग्राम भोजला जिला झांसी उत्तर प्रदेश में हुआ था। उनके पिता मूलचन्द्र सेना में काम करते थे। इस कारण घर के वातावरण में शौर्य और देशभक्ति की भावना का प्रभाव था। घर में प्राय: सेना द्वारा लड़े गए युद्ध, सैन्य व्यूह और विजयों की चचार् होती थी। उन्होंने कहा कि मूलचन्द्र जी ने बचपन से ही झलकारी को अस्त्र-शस्त्रों का संचालन सिखाया। इसके साथ ही पेड़ों पर चढ़ने, नदियों में तैरने और ऊँचाई से छलांग लगाने जैसे कार्यों में भी झलकारी पारंगत हो गई।

उन्होंने कहा कि एक बार झलकारी बाई जंगल से लकड़ी काट कर ला रही थी, तो उसका सामना एक खूंखार चीते से हो गया। झलकारी ने कटार के एक वार से चीते का काम तमाम कर दिया और उसकी लाश कन्धे पर लादकर ले आई। इससे गांव में शोर मच गया और एक बार उसके गांव के प्रधान को मार्ग में डाकुओं ने घेर लिया। संयोगवश झलकारी भी वहां आ गई। उसने डण्डे से डाकुओं की भरपूर ठुकाई की और उन्हें पकड़कर गांव ले आई। ऐसी वीरोचित घटनाओं से झलकारी पूरे गांव की प्रिय बेटी बन गई।

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

एमएलसी चुनाव में जीत मिलने पर सपाईयो ने मनाया जश्न

ज्ञानपुर। समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओ ने शनिवार को नगर के दुर्गागंज तिराहे पर नारेबाजी करते हुये एक दूसरे को मिठाई खिलालकर जीत...

अनियंत्रित कार गड्ढे में गिरी चार घायल

मोढ़। भदोही दुर्गागंज मार्ग पर मोढ़ बाजार में पूर्वी त्रिमूहानी के पास शुक्रवार की रात करीब 11 बजे गाड़ी नंबर भ्त्51ठळ1888 अनियंत्रित कार टकराकर...

सरकार की गलत नीतियों को शिक्षित वर्ग ने नकाराए विकास सपा जिलाध्यक्ष ने एमएलसी चुनाव में ऐतिहासिक जीत पर जताया आभार कहा किसानों के...

भदोही। विधान परिषद परिक्षेत्र वाराणसी में शिक्षक एवं स्नातक एमएलसी चुनाव में दोनों सीटों पर समाजवादी पार्टी की हुई ऐतिहासिक जीत पर समाजवादी पार्टी...

एमएलसी चुनाव में जीत मिलने पर सपाईयो ने मनाया जश्न

ज्ञानपुर। समाजवादी पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओ ने शनिवार को नगर के दुर्गागंज तिराहे पर नारेबाजी करते हुये एक दूसरे को मिठाई खिलालकर जीत...

कोर्ट के आदेश पर चार के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज

कोइरौना। स्थानीय थाना क्षेत्र के कटरा चौकी अंतर्गत स्थित अतिबलशाहपट्टी मवैयाथानसिंह गांव निवासी राजकुमार दुबे पुत्र स्व चौहर्जा प्रसाद दुबे 35 वर्ष के संदेहास्पद...