loading...

वाशिंगटन। 2016 में अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव में कथित तौर पर रूस की भूमिका को लेकर जांच की जा रही एक रिपोर्ट को शुक्रवार को विशेष वकील रॉबर्ट म्यूलर ने न्यायिक विभाग को सौंपी है। इस संबंध में न्यायिक विभाग ने कहा है कि म्यूलर ने अटॉर्नी जनरल विलियम बर्र को रिपोर्ट सौंप दी है, जो कि अमरीकी कानून प्रवर्तन के शीर्ष अधिकारी हैं। फिलहाल इस रिपोर्ट को सार्वजनिक नहीं किया गया है। बर्र को यह तय करना है कि जांच रिपोर्ट के किस अंश को सार्वजनिक करना है और किस अंश को नहीं। हालांकि इसमें कहा गया है कि यदि म्यूलर ने अपनी जांच में यह पाया कि ट्रंप या उनके प्रचार अभियान में कोई आपराधिक गतिविधि हुई है तो यह उनके सहयगियों के खिलाफ लगाए गए आरोपों से परे होगा।

डोनाल्ड ट्रंप का ऐलान, गैर-नाटो सहयोगी के रूप में ब्राजील को नामित करने के लिए प्रतिबद्ध है अमरीका

2017 से शुरू हुई है जांच प्रक्रिया

बता दें कि म्यूलर पूर्व एफबीआई अधिकारी हैं, जिन्होंने इस मामले की जांच 2017 में शुरू की थी। 2016 के अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव के बाद यह बात सामने आई थी की ट्रंप ने रूस के साथ मिलकर चुनाव को प्रभावित किया है और अपने पक्ष में करवाया है। इसके बाद यह भी कहा गया था कि रिपब्लिकन राष्ट्रपति ट्रंप ने जांच में बाधा डालने की कोशिश की। हालांकि जब जांच हो रही थी तब ट्रंप ने सभी आरोपों से इनकार किया था। साथ ही रूस ने भी राष्ट्रपति चुनाव में हस्तक्षेप करने से इनकार किया था। बता दें कि सांसदों के लिखे एक पत्र में बर्र ने कहा है कि म्यूलर ने जांच के निष्कर्ष निकाल लिए हैं, उस रिपोर्ट की वे समीक्षा कर रहे हैं। इसके बाद वे डिप्टी अटॉर्नी जनरल से मिलेंगे और यह निर्धारित करेंगे कि जो रिपोर्ट सामने आई है उससे कौन सी जानकारी कांग्रेस के सामने जारी की जा सकती है। इधर व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा सैंडर्स ने कहा है कि अब हम सब अटॉर्नी जनरल बर्र के फैसले का इंतजार रहे हैं, वे क्या कदम उठाते हैं। अभी तक व्हाइट हाऊस को विशेष वकील म्यूलर की कोई रिपोर्ट नहीं मिला है और न हीं इसकी कोई जानकारी दी गई है। मालूम हो कि रूस ने भी इस मामले में जांच की जिसमें ट्रंप के चुनाव प्रचार अभियान के अध्यक्ष पॉल मैनफोर्ट, पूर्व व्यक्तिगत वकील माइकल कोहेन और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार माइकल फ्लिन सहित प्रमुख हस्तियों को शामिल किया गया। जिन्हें मूलर ने पहले ही अपनी जांच में दोषी ठहराया है। अब सबसे बड़ा सवाल यह है कि क्या जांच रिपोर्ट में ट्रंप खुद गलत काम करने के लिए आरोपित हैं या नहीं? हालांकि जांच के दौरान ट्रंप ने मूलर को बदनाम करने की कोशिश की ओर उन्हें ‘चुड़ैल का शिकार’ बताया था। साथ ही म्यूलर पर हितों के टकराव का भी आरोप लगाया था।

 

Read the Latest India news hindi on Metrocitysamachar.com पढ़ें सबसे पहले India news मेट्रो सिटी समाचार डॉट कॉम पर.

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here