Global Statistics

All countries
197,948,685
Confirmed
Updated on July 30, 2021 11:48 pm
All countries
177,154,704
Recovered
Updated on July 30, 2021 11:48 pm
All countries
4,223,053
Deaths
Updated on July 30, 2021 11:48 pm

Global Statistics

All countries
197,948,685
Confirmed
Updated on July 30, 2021 11:48 pm
All countries
177,154,704
Recovered
Updated on July 30, 2021 11:48 pm
All countries
4,223,053
Deaths
Updated on July 30, 2021 11:48 pm

पेट्रोल डीजल मूल्य :कच्चा तेल फिर से तेजी की रफ़्तार में

कच्चे तेल का बाजार (Crude Oil Market) फिर उफान पर है। अमेरिकन पेट्रोलियम इंस्टीच्यूट (API) ने कल ही 25 जून को समाप्त सप्ताह के लिए इंवेंट्री के आंकड़े जारी किए। इसके मुताबिक इस सप्ताह वहां 8.153 मिलियन बैरल क्रूड का ड्रॉ हुआ। यह लगातार छठा सप्ताह है, जबकि वहां क्रूड ऑयल इंवेंट्री (Crude Oil Inventory) घटी है। वर्ष 2021 की शुरूआत से ही वहां कच्चे तेल के भंडार में 37 मिलियन बैरल की कमी हुई है। इससे मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय बाजार (International Crude Market) में कच्चा तेल फिर चढ़ गया। इधर घरेलू बाजार में देखें तो आज पेट्रोल और डीजल के दाम (Petrol Diesel Price) में कोई बदलाव नहीं (No Change in Petrol Diesel price) हुआ। इससे एक दिन पहले ही जहां पेट्रोल के दाम में 35 पैसे प्रति लीटर की तेज बढ़ोतरी हुई थी वहीं डीजल भी 28 पैसे चढ़ गया था जोअब नरम हुआ है। दिल्ली के बाजार (Delhi Market) में बुधवार को इंडियन ऑयल (IOC) के पंप पर पेट्रोल 98.81 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर रहा। यहां डीजल भी 89.18 रुपये प्रति लीटर पर टिका रहा।

33 दिनों में ही 8.49 रुपये महंगा हो चुका है पेट्रोल
ऐसा देखा गया है कि अपने यहां जब कोई महत्वपूर्ण चुनाव होता है तो पेट्रोल और डीजल की कीमतें (Petrol Diesel Price) नहीं बढ़ती। कई राज्यों में विधानसभा चुनाव (Assembly Election) की प्रक्रिया चलने की वजह से बीते मार्च और अप्रैल में पेट्रोल की कीमतों में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई। इसलिए, उस दौरान कच्चा तेल महंगा (Crude Oil Dearer) होने के बाद भी पेट्रोल-डीजल के दाम (Petrol Diesel Price) में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई थी। लेकिन, बीते चार मई से इसकी कीमतें खूब बढ़ी। कभी लगातार तो कभी ठहर कर, 33 दिनों में ही पेट्रोल 8.49 रुपये प्रति लीटर महंगा हो गया है।

33 दिन में 8.39 रुपये महंगा हुआ है डीजल
पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के लिए चुनाव आयोग (Election Commission) ने बीते 26 फरवरी को अधिसूचना जारी की थी। इसके बाद सरकारी तेल कंपनियों ने अंतिम बार 27 फरवरी 2021 को डीजल के दाम में 17 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की। इसके बाद दो महीने से भी ज्यादा दिनों तक इसके दाम में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई। चुनाव बीतने के बाद बीते 4 मई से अब तक रूक-रूक कर 33 दिनों में ही डीजल का दाम 8.39 रुपये प्रति लीटर चढ़ चुका है।

कल कच्चे तेल के दाम में फिर तेजी
कच्चे तेल का बाजार (Crude Oil Market) फिर उफान पर है। अमेरिकन पेट्रोलियम इंस्टीच्यूट (American Petroleum Institute) ने कल ही 25 जून को समाप्त सप्ताह के लिए इंवेंट्री (Crude Inventory) के आंकड़े जारी किए। इसके मुताबिक इस सप्ताह वहां 8.153 मिलियन बैरल क्रूड का ड्रॉ हुआ। यह लगातार छठा सप्ताह है, जबकि वहां क्रूड ऑयल इंवेंट्री घटी है। वर्ष 2021 की शुरूआत से ही वहां कच्चे तेल के भंडार में 37 मिलियन बैरल की कमी हुई है। इससे मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय बाजार (International Crude Market) में कच्चा तेल फिर चढ़ गया। अमेरिकी बाजार में कल ब्रेंट क्रूड (Brent Crude) 0.10 डॉलर प्रति बैरल घट कर 74.68 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गया था। वहां यूएस वेस्ट टैक्सास इंटरमीडियएट या डब्ल्यूटीआई क्रूड (WTI) भी 0.21 डॉलर बढ़ कर 72.98 डॉलर प्रति बैरल हो गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles