Global Statistics

All countries
197,948,685
Confirmed
Updated on July 30, 2021 11:48 pm
All countries
177,154,704
Recovered
Updated on July 30, 2021 11:48 pm
All countries
4,223,053
Deaths
Updated on July 30, 2021 11:48 pm

Global Statistics

All countries
197,948,685
Confirmed
Updated on July 30, 2021 11:48 pm
All countries
177,154,704
Recovered
Updated on July 30, 2021 11:48 pm
All countries
4,223,053
Deaths
Updated on July 30, 2021 11:48 pm

Corona Vaccination Updates :भारत में कम हुई मरीजों की संख्या

कोरोना वैक्सीनेशन का असर हो रहा अच्छा

देश के कई शहरों के 1104 अस्पतालों के करीब 4 हजार मरीजों पर की गई एक स्टडी में ये पाया गया कि कोरोना वैक्सीनेशन के असर ने कोरोना संक्रमण को काफी हद तक नियंत्रित (Control) किया है . उसमे भी वैसे लोग जिन्होंने कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज़ को लिया वो काफी हद तक कोरोना के बुरे असर से बचे हुए हैं. देश में 45 साल से अधिक उम्र के लोगों पर हुई स्टडी से ये भी साफ हुआ कि अगर वैक्सीनेटेड होने के बावजूद कोरोना वायरस का संक्रमण हुआ है तो उसमें भी अस्पताल में रहने का वक्त घट रहा है.

भारत के लिए अच्छी खबर : Lambda variant के मामले ने नहीं दी देश में दस्तक

अस्पताल के बिल में आई कमी

टीकाकरण के एक और फायदे हुए है अब इसी वजह से कोरोना के इलाज में होने वाला खर्च काफी हद तक कम हुआ है. वैक्सीनेटेड लोगों के कोरोना पीड़ित होने पर अस्पताल का खर्च जहां 2 से 3 लाख आता था उसमें कमी आई है. यानी अस्पताल के बिल में भी 15% की कमी आई.

स्टार हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी की ओर से कराई गई स्टडी के मुताबिक इसी तरह वैक्सीनेटेड हो चुके लोग कोरोना संक्रमित होने के बाद 4 से 5 दिन में डिस्चार्ज हो गए जबकि जिन्होंने एक भी डोज नहीं ली थी उन्हें कोरोना को हराने के लिए करीब सात दिन से ज्यादा अस्पताल में भर्ती रहना पड़ा.

इसी तरह वो मरीज जिन्हें पहले से कोई दूसरी बीमारी भी थी उनमें भी ये पाया गया कि वैक्सीनेशन के बाद उनके आईसीयू (ICU) में भर्ती होने की जरुरत 9 प्रतिशत से घटकर 5 प्रतिशत रह गई.इसलिए जो अभी भी वैक्सीन लगवाना नहीं चाह रहे हैं उन्हें इन नतीजों से सबक लेना चाहिए. कोरोना की तीसरी लहर आए उससे पहले ज्यादा से ज्यादा वैक्सीनेशन ही हमें बचा सकता है

Hot Topics

Related Articles