29 C
Mumbai
Monday, October 18, 2021
HomeUttar Pradeshकांशीराम आवासीय कालोनीः यहां डेंगू और मलेरिया का है पूरा इंतजाम

कांशीराम आवासीय कालोनीः यहां डेंगू और मलेरिया का है पूरा इंतजाम

विकास भवन से सटी हुई आवासीय कालोनी में फैला गंदगी का अंबार

जलजमाव और गंदगी की वजह से हमेशा उठती रहती है भीषण दुर्गंध

ज्ञानपुर। एक तरफ प्रशासनिक और स्वास्थ्य महकमा डेंगू और मलेरिया से बचाव व रोकथाम के लिए लोगों को पाठ पढ़ा रहा है तो दूसरी तरफ उसकी नाक के नीचे ही इन बीमारियों को बढ़ावा दिया जा रहा है। हम बात कर रहे हैं कांशीराम आवासीय कालोनी की। यह कालोनी विकास भवन से एकदम सटी हुई है।

रोजाना दर्जनों अफसरों का उधर से गुजरना भी होता है, पर किसी को यहां की हालत न तो दिखाई पड़ती है और न ही सुनाई। कांशीराम आवासीय कालोनी के निवासी सफाई कर्मियों को पैसे देकर और चिरौरी करके थक चुके हैं। इस सिलसिले में कांशीराम आवासीय योजना के लोगों से बात की गई तो लोगों का गुस्सा प्रशासन के साथ ही मीडिया पर भी देखने को मिला। स्थानीय लोग उक्त गंदगी, जलजमाव पर कुछ बोलने को भी तैयार नहीं हुए। काफी प्रयास पर कांशीराम आवासीय कालोनी के निवासियों ने बताया कि यहां जो गिने-चुने कर्मचारी हाल-चाल लेने आते हैं, वे सिर्फ साफ-सफाई के नाम पर लोगों से वसूली कर चले जाते हैं। सफाई कभी नहीं की जाती है। यहां पर साफ-सफाई कभी नहीं होती। स्थानीय लोग जानवरों की तरह यहां पर रहने के लिए मजबूर हैं।

चैन से खड़े नहीं होने देते जानलेवा मच्छर

आवासीय निवासियों की मानें तो आए दिन लोग बीमार होते रहते हैं। बजब जाती नालियां, जगह-जगह जलभराव और गंदगी के बीच सांस लेना भी दुश्वार है। यदि कहीं खड़े होना पड़े तो मच्छर चैन से खड़े भी नहीं होने देते। यदि इस आवासीय परिसर की जलनिकासी और साफ-सफाई पर ध्यान नहीं दिया गया तो मुख्यालय में भी डेंगू और मलेरिया का प्रकोप फैल सकता है। विकास भवन के समीप स्थित इस आवासीय कालोनी में कई ब्लाक बनाए गए हैं और लगभग सभी ब्लाकों में गंदगी और जलभराव की यही स्थिति है।

दुर्घटना का कारण बन सकते हैं जर्जर तार

आवासीय कालोनी में बिजली सप्लाई के लिए दौड़ा गए विद्युत तार इतने नीचे लटक रहे हैं कि कोई भी नीचे से इन्हे छू सकता है। ऐसे में कभी भी गंभीर हादसा हो सकता है। तारों को दौड़ाने के लिए कई पोल भवन के सहारे टिके नजर आए। उनके तार घरों को छूकर जा रहे हैं। बारिश में स्थिति बद से बदतर हो जाती है। लोगों का कहना है कि घर में करंट दौडने लगता है। बिजली विभाग को बार बार चेताया जाता है, लेकिन जनपद का बिजली विभाग ऐसा है कि सुधरने का नाम ही नहीं ले रहा। स्थानी निवासियों के अनुसार मात्र दो ट्रांसफार्मर ही काम कर रहे हैं बाकी ट्रांसफार्मर जल चुके हैं।

ओवरहेड टैंक से कभी नहीं मिला पानी

कांशीराम आवासीय कालोनी में पेयजल सप्लाई के लिए ओवरहेड टैंक की स्थापना की गई है, पर कभी भी उन्हे टंकी का पानी नसीब नहीं हुआ। स्थानीय लोग बताते हैं कि उक्त टंकी से कभी भी पानी की सप्लाई नहीं की गई। पेयजल व अन्य जरूरतों के लिए लोग बाहर से पानी ढोकर ले आते हैं। लोगों ने बताया कि यहां स्थापित ओवरहेड टैंक में लीकेज की समस्या है, जिसे आज तक दुरुस्त नहीं करवाया जा सका। स्थानीय लोगों ने जिला प्रशासन से उक्त समस्याओं के त्वरित निदान की मांग की है।

Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
Related News