27.5 C
Mumbai
Sunday, April 11, 2021

घोसी लोकसभा सीट: एसपी-बीएसपी गठबंधन का प्रत्‍याशी फरार, नेता कर रहे चुनाव प्रचार

Must Read

महाराष्ट्र में लगेगा पूर्ण लॉकडाउन, CM उद्धव ठाकरे ने दिये संकेत ! फडणवीस ने कहा … तो फूट जायेगा लोगों का गुस्‍सा

सोमवार या मंगलवार को हो सकती समी़क्षा मुंबई. कोरोना पर सर्वंदलीय बैठक में सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि पूर्ण...

महाभारत के ‘इंद्रदेव’ और कांग्रेस विधायक की कोरोना से मौत

                    कांग्रेस नेता रावसाहेब जयंतराव अंतापुरकर      ...

सुनी गलियां, सुना मंजर… कुछ ऐसी नजर आई मुंबई की सड़कें !

  मुंबई.महाराष्ट्र में शुक्रवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह 7 बजे तक लगाये गये वीकेंड पूर्ण लॉकडाउन (Maharashtra Weekend...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

घोसी

सीटों के लिहाज से देश के सबसे बड़े सूबे उत्‍तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव अपने अंतिम चरण में पहुंच गया और बाकी बची सीटों पर प्रत्‍याशियों ने जीत के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया है। इस बीच प्रदेश में एक ऐसी भी सीट है जहां मुख्‍य विपक्षी दल का प्रत्‍याशी फरार चल रहा है और दिग्‍गज नेता उसके प्रचार के लिए पहुंच रहे हैं। जी हां, यहां बात हो रही है मऊ जिले की घोसी लोकसभा सीट से एसपी-बीएसपी गठबंधन के प्रत्‍याशी अतुल राय की।

मऊ सदर विधायक बाहुबली मुख्‍तार अंसारी के करीबी अतुल राय घोसी सीट से बीएसपी के टिकट पर चुनावी मैदान में हैं। अतुल राय के खिलाफ वाराणसी के लंका थाने में यूपी कॉलेज की एक पूर्व छात्रा की तहरीर पर दुष्‍कर्म सहित अन्‍य आरोपों में मुकदमा होने के बाद न्‍यायिक मैजिस्‍ट्रेट (प्रथम) आशुतोष तिवारी की कोर्ट ने गिरफ्तारी के लिए गैर जमानती वॉरंट जारी किया है। राय जमानत के लिए हाई कोर्ट तक गए लेकिन उन्‍हें राहत नहीं मिली।

‘मोदी नीच’ बयान पर फिर लौटे मणिशंकर

अतुल राय की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं

रेप के मामले में अतुल राय की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। अतुल राय को गिरफ्तार करने के लिए तीन थानेदारों की टीमें गाजीपुर तथा मऊ भेजी गई हैं। पुलिस टीमों ने अतुल राय के कई ठिकानों पर छापेमारी की, लेकिन फिलहाल उसका सुराग नहीं लग सका है। माना जा रहा है कि वह हरियाणा में कहीं छिपे हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक पुलिस अतुल के करीबियों पर भी शिकंजा कसने की तैयारी में है। अतुल राय के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने वाली पीड़िता गाजीपुर की रहने वाली है। उसने पुलिस को दी तहरीर में आरोप लगाया है कि पत्‍नी से मिलाने के बहाने लंका के अपने फ्लैट में बुलाकर अतुल ने उसके साथ दुष्‍कर्म किया।

http://navbharattimes.indiatimes.com/

संकट में अतुल राय

लड़की ने आरोप लगाया है कि सीसीटीवी कैमरों से बनाए विडियो वायरल करने की धमकी देकर अतुल राय लगतार यौन शोषण करता रहा। पीड़िता का आरोप है कि अतुल ने उसे परिवार सहित जान से मारने की धमकी भी दी। दूसरी ओर अतुल राय का कहना है कि आरोप लगाने वाली युवती उनके ऑफिस में आती थी और चुनाव लड़ने के नाम पर चंदा लेती थी। लोकसभा चुनाव में प्रत्‍याशी बनने के बाद उसने ब्‍लैकमेल करने का प्रयास किया। इसका मुकदमा बलिया के नरही थाने में दर्ज करवाया गया है।

राहुल के ’23 मई’ प्लान को SP-BSP देंगे झटका

गठबंधन के लिए असहज स्थिति

उधर, गिरफ्तारी से बचने के लिए राय भूमिगत हो गए हैं। इस बीच जहां बीजेपी घोसी में आक्रामक होकर अपना चुनाव प्रचार कर रही है, वहीं गठबंधन के लिए असहज स्थिति पैदा हो गई है। गठबंधन को समझ में नहीं आ रहा है कि वह राय की कमी को किस तरह से पूरी करे। गठबंधन के मतदाताओं के सामने भी उलझन है कि वे फरार चल रहे प्रत्याशी के पक्ष में वोट करें अथवा उन्हें किसी और विकल्प की तलाश करनी चाहिए।

loksabha elections 2019 why modi is invincible in varanasi

क्या है काशी का गणित, क्यों मोदी को हराना मुश्किल?
Loading

हालांकि राय के समर्थन में दिग्‍गज नेताओं का चुनाव प्रचार जारी है। 15 मई को गठबंधन की महारैली होने जा रही है। खुद बीएसपी सुप्रीमो मायावती अतुल राय के बचाव में उतर आई हैं। उन्होंने बीजेपी पर सत्ता का दुरुपयोग करके बीएसपी को बदनाम करने का आरोप लगाया है। मायावती ने कहा, ‘बीएसपी महिलाओं का पूरा-पूरा आदर-सम्मान करती है जो जग-जाहिर है लेकिन दुःखद है कि अब चुनाव के समय में भी बीजेपी सत्ता का दुरुपयोग करके बीएसपी को बदनाम करने पर तुली हुई है। घोसी में पार्टी प्रत्याशी के साथ भी ऐसा ही किया जा रहा है जो बीजेपी का यह अति-घिनौना चुनावी हथकंडा है।’

http://navbharattimes.indiatimes.com/

अतुल राय के समर्थन में गठबंधन की रैली

घोसी सीट का चुनावी गणित

घोसी सीट पर करीब 3.5 लाख जाटव (दलित), 2 लाख यादव (ओबीसी), 1.2 लाख राजभर (ओबीसी), एक लाख नोनिया (ओबीसी) और 80 हजार गैर-जाटव दलित वोट हैं। इस सीट पर करीब 4 लाख से ऊपर सवर्ण जातियों के वोट हैं। पिछले लोकसभा चुनाव में इस सीट पर बीजेपी के हरिनारायण राजभर ने बीएसपी के दारा सिंह चौहान को हराया था। राजभर को 3,79,797 वोट और चौहान को 2,33,782 वोट मिले थे।

जहानाबाद: यहां हिंदुत्व नहीं सिर्फ जाति की बात

उधर, एसपी-बीएसपी गठबंधन का मानना है कि राय के भूमिगत रहने का असर उनके वोट बैंक पर नहीं पड़ेगा। गठबंधन इस सीट पर अपनी जीत का दावा कर रहा है। बीएसपी के जिला प्रभारी ललित कुमार अकेला गांव-गांव जाकर अपने वोटरों को भरोसा दिला रहे हैं। अकेला का दावा है कि राय कहां पर हैं, इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है लेकिन उनकी गैर-मौजूदगी का वोटरों पर कोई असर नहीं पड़ने जा रहा है क्योंकि गठबंधन का वोट पक्का है। हमारे वोट कहीं और नहीं जाने वाले हैं।

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest News

महाराष्ट्र में लगेगा पूर्ण लॉकडाउन, CM उद्धव ठाकरे ने दिये संकेत ! फडणवीस ने कहा … तो फूट जायेगा लोगों का गुस्‍सा

सोमवार या मंगलवार को हो सकती समी़क्षा मुंबई. कोरोना पर सर्वंदलीय बैठक में सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि पूर्ण...

महाभारत के ‘इंद्रदेव’ और कांग्रेस विधायक की कोरोना से मौत

                    कांग्रेस नेता रावसाहेब जयंतराव अंतापुरकर       इंद्र की भूमिका निभाने वाले...

सुनी गलियां, सुना मंजर… कुछ ऐसी नजर आई मुंबई की सड़कें !

  मुंबई.महाराष्ट्र में शुक्रवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह 7 बजे तक लगाये गये वीकेंड पूर्ण लॉकडाउन (Maharashtra Weekend lockdown guidelines) के दौरान शनिवार...

बंगाल विधानसभा चुनाव: चौथे चरण के मतदान में हिंसा, गोलीबारी में 5 लोगों की मौत, पोलिंग बूथ 126 पर वोटिंग बंद

कोलकता. बंगाल विधानसभा चुनाव एक फिर हिंसक बन गया. शनिवार को शीतलकुची के माथाभंगा ब्लॉक में गोलीबारी कि घटना सामने आई है . चौथे...

मीरा-भायंदर में पानी की समस्या से लोग परेशान, नगर निगम अच्छी जलनीति का अभाव : मनसे   

मीरा भायंदर ।  मीरा भायंदर नगर निगम की स्थापना 28 फरवरी 2002 को हुई थी। भले ही निगम को अपनी स्थापना के 19 साल...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -