Global Statistics

All countries
198,769,744
Confirmed
Updated on August 1, 2021 3:13 pm
All countries
177,738,165
Recovered
Updated on August 1, 2021 3:13 pm
All countries
4,237,516
Deaths
Updated on August 1, 2021 3:13 pm

Global Statistics

All countries
198,769,744
Confirmed
Updated on August 1, 2021 3:13 pm
All countries
177,738,165
Recovered
Updated on August 1, 2021 3:13 pm
All countries
4,237,516
Deaths
Updated on August 1, 2021 3:13 pm

शासन के प्राथमिकता वाले कार्यक्रम में लापरवाही बर्दाश्त नहींः जिलाधिकारी, जिलाधिकारी आर्यका अखौरी ने की विकास व निर्माण कार्यो की समीक्षा

ज्ञानपुर। जिलाधिकारी आर्यका अखौरी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आज विकास कार्यो एवं निर्माण कार्यो की मासिक समीक्षा बैठक हुई। जिसमें उन्होंने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अधिकारीगण अपनी-अपनी कार्य शैली एवं सोच में परिवर्तन लाते हुए अपने-अपने विभागों के विकास कार्यो का क्रियान्वयन कराने में रूचि ले। मात्र अपने अधिनस्थों के भरोसे न छोड़े। उन्होंने बैठक में उपस्थित सभी निर्माण एजेन्सी एवं विभागों के अधिकारियों को सख्त लहजे मंे निर्देश दिया कि अपने-अपने विभागों के विकास व निर्माण कार्यो को प्रत्येक दशा में समय सीमा के भीतर पूर्ण कराये। जो भी निर्माण कार्य कराये जाये वे मानक के अनुरूप गुणवत्तायुक्त पारदर्शिता के साथ किये जाय और कोई भी अधिकारी बिना अनुमति के छुट्टी एवं मुख्यालय से बाहर नही जायेगा।

समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि रैंकिंग में जिन विभागों की श्रेणी-डी प्राप्त हुई है, ऐसे विभाग अपनी प्रभावी कार्ययोजना बनाकर स्वंय नियमित समीक्षा करें और आगामी माह में ए-श्रेणी प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि इसमें जिस स्तर पर उनके अथवा मुख्य विकास अधिकारी के मार्गदर्शन एवं सहयोग की अपेक्षा हो तो उसे ससमय प्राप्त करें। जिलाधिकारी ने शासन के विकास प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों की विभागवार, योजनावार समीक्षा के दौरान, पंचायती राज विभाग के अन्तर्गत राज्य/14वां वित्त आयोग, कायाकल्प योजना अंतर्गत कराए जा रहे कार्यों, राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान, समाज कल्याण के अन्तर्गत छात्रवृत्ति वितरण, पेंशन योजना भौतिक/वित्तीय, दिव्यांगजन सशक्तीकरण पेंशन योजना, प्रोबेशन विभाग, ग्राम विकास के अन्तर्गत मुख्यमंत्री समग्र ग्राम विकास योजना अवस्थापना सुविधाएं, मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण, राष्ट्रीय ग्रामीण अजीविका मिशन, मनरेगा, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, गोवंश, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल मिशन, धान खरीद, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के अन्तर्गत चिकित्सकों, दवाओं की उपलब्धता, स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति, टीकाकरण, खाद्य एवं रसद के अन्तर्गत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, आधार प्रमाणीकरण के माध्यम से खाद्यान्य वितरण की प्रगति के बारे में जानकारी ली तथा संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने-अपने विभाग की योजनाओं के लक्ष्यों को समय से पूर्ण करें। उन्होंने समीक्षा बैठक में लोक निर्माण विभाग के अन्तर्गत जनपद में नई सड़क का निर्माण, सेतुओं का निर्माण, सड़कों को गड्ढ़ा मुक्त किये जाने आदि, विद्युत विभाग की समीक्षा में सरकार की मंशानुरूप रोस्टर के अनुसार विद्युत अपूर्ति, ग्रामों का ऊर्जीकरण, ट्रान्सफार्मरों का प्रतिस्थापन, कृषि विभाग के अन्तर्गत खाद व बीज की उपलब्धता एवं वितरण, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, ग्राम विकास के अन्तर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण एवं शहरी, बाल विकास एवं पुष्टाहार, लघु सिंचाई व वन विभाग आदि की योजनाओं की गहन समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।

बैठक में जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि जन कल्याणकारी योजनाओं/कार्यक्रमों से लाभांवित लाभार्थियों का सत्यापन भी कराया जाये। उन्होंने बैठक में उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि अपने-अपने विभाग की योजनाओं/कार्यक्रमों को पूर्ण करने के लिये विशेष ध्यान दें। यदि कहीं कोई कठिनाई आये तो सीधे मुझ से तत्काल सम्पर्क कर समाधान करायें। सभी अधिकारी अपने-अपने कार्यालय समय से पहुंचे तथा जनता की समस्याओं का मौके पर निस्तारण करना सुनिश्चित करें। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी भानु प्रताप सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. लक्ष्मी सिंह, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला सूचना अधिकारी, अधिशाषी अभियन्ता, अधिशाषी अधिकारी, जल निगम, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी सहित संबंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles