Global Statistics

All countries
198,975,120
Confirmed
Updated on August 2, 2021 1:23 am
All countries
177,875,179
Recovered
Updated on August 2, 2021 1:23 am
All countries
4,239,777
Deaths
Updated on August 2, 2021 1:23 am

Global Statistics

All countries
198,975,120
Confirmed
Updated on August 2, 2021 1:23 am
All countries
177,875,179
Recovered
Updated on August 2, 2021 1:23 am
All countries
4,239,777
Deaths
Updated on August 2, 2021 1:23 am

महाराष्ट्र में मई में बढ़ा टैक्स रेवेन्यू कलेक्शन

मुंबई: मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र की महाविकास आघाडी सरकार टैक्स रेवेन्यू कलेक्शन के मामले में सही दिशा में कदमताल करती नजर आ रही है। महाराष्ट्र ने अप्रैल-मई महीने में बजटीय अनुमान का 10.47 फीसदी टैक्स रेवेन्यू कलेक्शन किया है, जबकि पिछले साल इन दो महीनों में सिर्फ 5.72 फीसदी ही टैक्स रेवेन्यू कलेक्शन हो पाया था।

महाराष्ट्र सरकार के 2021-22 के बजटीय अनुमान के अनुसार साल भर में सरकार को कुल 3 लाख 68 हजार 986.86 करोड़ रुपए का रेवेन्यू मिलने का अंदाज है। इसमें 2 लाख 85 हजार 533.97 करोड़ रुपए का टैक्स रेवेन्यू मिलने का अनुमान है। अब तक अप्रैल में 17 हजार 851.54 करोड़ रुपए और मई में 12,035.79 करोड़ रुपए का टैक्स रेवेन्यू जमा हुआ है। पिछले साल अप्रैल में 6,898.69 करोड़ रुपए और मई में 8716.09 करोड़ रुपये ही टैक्स रेवेन्य जमा हुआ था। इस तरह इस साल मई में पिछले साल की तुलना में 38.09 फीसदी, यानी 3,319.7 करोड़ रुपए अधिक टैक्स रेवेन्यू कलेक्शन हुआ है। भारतीय लेखा परीक्षा एवं लेखा विभाग के प्रधान महालेखाकार (लेखा व हकदारी)-1 के अनुसार इस कारोबारी वर्ष के शुरुआती पहले महीने अप्रैल में 17,851.54 करोड़ रुपए का टैक्स रेवेन्यू कलेक्शन हुआ था। यह बजटीय अनुमान का 6.25 फीसदी थी।

पिछले साल अप्रैल में सिर्फ 2.53 फीसदी ही टैक्स रेवेन्यू कलेक्शन हुआ था। मई में टैक्स रेवेन्यू कलेक्शन बढ़कर 29,887.33 करोड़ रुपए हो गया। यह बजटीय अनुमान का 10.47 फीसदी है। मई में कुल 29,887.33 टैक्स रेवेन्यू जमा हुआ है। इसमें GST से 12,998.54 करोड़ रुपए, स्टैंप एवं रजिस्ट्रेशन से 1,968.40 करोड़ रुपए, लैंड रेवेन्यू से 224.52 करोड़ रुपए, सेल्स टैक्स से 7,076.36 करोड़ रुपए, स्टेट एक्साइज ड्यूटी से 1,259.71 करोड़ रुपए, केंद्रीय कर से राज्य के हिस्से के रूप में 4,949.33 करोड़ रुपए और अन्य टैक्स व ड्यूटी से 1,410.47 करोड़ रुपए का टैक्स रेवेन्यू शामिल है।

Hot Topics

Related Articles