31 C
Mumbai
Thursday, May 28, 2020
विज्ञापन
Loading...

पाकिस्तान के कराची में कैसे मकानों से टकराते हुए गली में गिरा विमान, चश्मदीदों ने बयां किया खौफनाक मंजर

विज्ञापन
Loading...

Must read

कर्ज देने को लेकर बैंकों को फिच की चेतावनी, दो साल में 6% तक बढ़ जाएगा एनपीए

फिच रेटिंग्स ने गुरुवार (28 मई) को एक रिपोर्ट में यह चेतावनी दी कि सरकार के करीब 20 लाख करोड़ रुपए के प्रोत्साहन पैकेज...

कोरोना लॉकडाउन के कारण पाकिस्तान में फंसे 300 भारतीय शनिवार को स्वदेश लौटेंगे

भारत ने पाकिस्तान में कोरोना वायरस महामारी के कारण लगे लॉकडाउन में फंसे अपने तीन सौ नागरिकों को वापस स्वदेश लौटने की अनुमति दे...
MCS Deskhttps://metrocitysamachar.com/
Latest Breaking News India, Express Headlines 2020, Political News - Metro City Samachar

पाकिस्तान में शुक्रवार को हुए हुए विमान हादसे के खौफनाक मंजर को बयां करते हुए चश्मदीदों और बचाव कार्यकर्ताओं ने बताया कि पहले विमान के डैने आग के लपटों और काले धुएं के साथ गिरे जिसके बाद पूरा विमान जमीन पर धमाके के साथ गिरा। इस विमान में 99 लोग सवार थे। 

पाकिस्तान एयरलाइंस का विमान (उड़ान संख्या पीके 8303) शुक्रवार को कराची हवाई अड्डे के पास मॉडल कॉलोनी स्थिति आवासीय इलाके में गिरा था जिसमें नौ बच्चों सहित 97 लोगों की मौत हो गई। हादसे के दस मिनट के भीतर इदी (गैर सरकारी संगठन) के एम्बुलेंस घटना स्थल पर पहुंच गए थे। 

यह भी पढ़ें: पाक के कराची में विमान क्रैश का वीडियो और सुनिए दुर्घटना से ठीक पहले पायलट ने क्या कहा

इदी फाउंडेशन के प्रमुख फैसल इदी ने घटना को याद करते हुए बताया कि संकरी गलियां क्षतिग्रस्त कारें, विमान और धवस्त हो चुके इमारत के मलबों से भर गई थीं। उन्होंने बताया कि चूंकी प्रभावित गली में विमान का मलबा जल रहा था, इसलिए अधिकतर बचाव कार्य पड़ोस के मकानों की छतों के जरिए हुआ। 

फैसल ने बताया कि हादसे के चश्मदीदों ने बताया कि विमान का मलबा 20 फीट गली में गिरने से पहले छत पर बनी पानी की टंकी से टकराया था। एक चश्मदीद ने बीबीसी उर्दू को बताया, ”मैं मस्जिद से बाहर निकल रहा था तभी देखा कि विमान बहुत नीचे से उड़ रहा है, फिर वह इमारत से टकरा गया है और हवा में आग की लपटें और धुएं का गुब्बार उठने लगा। हादसे के समय बहुत तेज धमाका हुआ है और जब मैं घटनास्थल पर पहुंचा तो विमान का मलबा जल रहा था।”

एक अन्य चश्मदीद कामरान ने बताया, ”मैं पुलिस से पहले घटना स्थल पर पहुंचा। मैंने बहुत तेज धमाका सुना और कार के अंदर किसी व्यक्ति को मदद के लिए गुहार लगाते हुए सुना। मैंने एक पुरुष और महिला को कार से निकाला। मैंने वहां चारों ओर मलबा, आग और धुएं के गुब्बार को देखा। तीन घर बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए थे।”  

एक अन्य चश्मदीद मोहम्मद उजैर खान ने बीबीसी को बताया, ”करीब चार घर बुरी तरह से धराशायी हो गए हैं, वहां पर आग और धुंआ था। वे मेरे पड़ोस में है। मैं उस खौफनाक मंजर को बयां नहीं कर सकता। उन्होंने बताया कि धमाके की आवाज सुनने के बाद वह घर से निकले थे। 
    
गौरतलब है कि जब विमान हादसे का शिकार हुआ तब वह कराची हवाई अड्डे से महज कुछ दूरी पर था। टीवी फुटेज में दिखाया गया कि बचाव कर्मी घनी आबादी वाले इलाके में दुर्घटनाग्रस्त विमान के मलबे की तलाश कर रहे हैं और कई कारों में आग लगी हुई। इस घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित दुनिया के तमाम नेताओं ने शोक व्यक्त किया है। 

विज्ञापन
Loading...

More articles

- Advertisement -
- Advertisement -

Latest article

कर्ज देने को लेकर बैंकों को फिच की चेतावनी, दो साल में 6% तक बढ़ जाएगा एनपीए

फिच रेटिंग्स ने गुरुवार (28 मई) को एक रिपोर्ट में यह चेतावनी दी कि सरकार के करीब 20 लाख करोड़ रुपए के प्रोत्साहन पैकेज...

कोरोना लॉकडाउन के कारण पाकिस्तान में फंसे 300 भारतीय शनिवार को स्वदेश लौटेंगे

भारत ने पाकिस्तान में कोरोना वायरस महामारी के कारण लगे लॉकडाउन में फंसे अपने तीन सौ नागरिकों को वापस स्वदेश लौटने की अनुमति दे...