Global Statistics

All countries
199,008,754
Confirmed
Updated on August 2, 2021 2:24 am
All countries
177,895,590
Recovered
Updated on August 2, 2021 2:24 am
All countries
4,240,331
Deaths
Updated on August 2, 2021 2:24 am

Global Statistics

All countries
199,008,754
Confirmed
Updated on August 2, 2021 2:24 am
All countries
177,895,590
Recovered
Updated on August 2, 2021 2:24 am
All countries
4,240,331
Deaths
Updated on August 2, 2021 2:24 am

Maharashtra : आषाढ़ी एकादशी पर पत्‍नी संग मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने की भगवान विट्ठल की पूजा

Maharashtra : के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Udhav thakre) ने अपनी पत्नी रश्मि ठाकरे (Rashmi thakre) के साथ आषाढ़ी एकादशी (Ashadhi Ekadashi) के शुभ अवसर पर मंगलवार सुबह पंढरपुर (Pandharpur) के विट्ठल-रुक्मिणी मंदिर (Vitthal rukmini mandir) में ‘महा पूजा’ की। देश के कई राज्यों आषाढ़ी एकादशी के खास अवसर पर भगवान विष्णु की पूजा अर्चना की जाती है। कुछ लोग समृद्धि प्राप्त करने और मोक्ष प्राप्त करने के लिए इस दिन उपवास भी रखते हैं।

Maharashtra : वसई विरार की 3 बड़ी घटनाएं

विठ्ठल भगवान की पूजा महाराष्ट्र (Maharashtra), तेलंगाना, कर्नाटक, गोवा,और आन्ध्रा में की जाती है। विट्ठल भगवान का मुख्य मंदिर महाराष्ट्र के पंढरपुर में स्थित है, इनकी पत्नी का नाम रखुमाई है। पंढरपुर को भक्त ‘भु-वैकुंठ’ अर्थात पृथ्वी पर भगवान विष्णु का निवास स्‍थान मानते हैं। भक्‍तों की मान्‍यता है कि भगवान विठ्ठल (Vitthal) के मंदिर से कोई खाली हाथ नहीं लौटता।

भगवान विष्णु (Vishnu) के अवतार माने जाते हैं भगवान विट्ठल

भगवान विट्ठल को भगवान विष्णु और भगवान कृष्ण का अवतार माना जाता है. महाराष्ट्र, कर्नाटक, गोवा, तेलंगाना और आन्ध्रप्रदेश (Andhra pradesh) में मुख्यरूप से इनकी पूजा होती है. महाराष्ट्र (Maharashtra) के पंढरपुर में भगवान विट्ठल मुख्य मंदिर हैं. इस मंदिर के बारे में मान्यता है कि यहां भगवान विठ्ठल के दरबार से कोई खाली हाथ नहीं लौटता है.

 

Hot Topics

Related Articles